एक दलित महिला को बिच गांव में दबंगो ने पीटा (Code: BH-GY-01, Date: 06-Jun-2015 )

Back to search

Case Title

Case primary details

Case posted by AIDMAM Bihar
Case code BH-GY-01
Case year 06-Jun-2015
Type of atrocity
Whether the case is being followed in the court or not? Yes

Fact Finding

Fact finding date

Fact finding date Not recorded

Case Incident

Case Incident details

Case incident date 06-Jun-2015
Place Village: Not recorded
Taluka:Not recorded
District: Gaya(DP)
State: Bihar
Police station Parraiya
Complaint date 06-Jun-2015
FIR date 06-Jun-2015

Case brief

Case summary

केश  का  सारांश_

 पीड़िता लिलामति देवी है।उम्र (35) वर्ष पति-बुन्देल दास है।,ग्राम-मंझियावा, पोस्ट-परैया,थाना-परैया, जिला- गया ,राज्य-बिहार, की स्थाई निवासी है।यह अनुसूचित जाती (चमार) की सदस्या है।तथा अपने गांव से लेकर दूसरे गाँव तक मजदूरी करती है। लिलामति के पति भी अपने गाँव से लेकर ,दूसरे गाँव तथा झारखण्ड में सहनाई बजाने का काम करते है। इनके पांच बच्चे है।तिन लड़का एव दो लड़की सभी मजदूरी करके अपना परवस्ति चलाते है। 

घटना का कारण लिलामति देवी का आठ वर्ष का बच्चा गंगे राम बनता है।दिनांक 06-06-2015 को करीबन 9बजे दिन में लिलामति देवी का आठ वर्षीय बच्चा गंगे राम आंधी आया हुआ था तो।आम का पेड़ था ।गांव के बाहर उसी पेड़ के निचे से गंगे राम ने गिरा हुआ आम तिन -चार उठा लिया !उतने में मुरारी प्रसाद की पत्नी गीता देवी ,गंगे राम से आम छीन लिया ,तो गंगे राम ने आम माँगा अपना तो गीता देवी ने गंगे राम को पीट दिया गंगे राम रोते-रोते अपने घर आया ,तो लिलामति देवी ने गंगे राम से पूछा  की क्यो रो रहा है। तो गंगे राम ने बताया की मुरारी प्रसाद की  पत्नी ने पीटा है। उसके बाद लिलामति देवी दूसरे दिन मुरारी प्रसाद के घर गई। तो दरवाजे के सामने मुरारी प्रसाद की माँ बैठी हुई थी।तो लिलामति देवी ने पूछा की मामा आप लोग उतना छोटा सा बच्चा का उतना पिटाई क्यों किये ।उतने में लिलामति देवी आवाज को सुनकर मुरारी प्रसाद की पत्नी गीत देवी निकली और बोलने लगी की चमार ,चमईन तू दरवाजा पर चढ़ कर हमसे पूछने आई है।तो लिलामति देवी ने बोला की आपको पीटना नही चाहिए था। आपने जब आम छिन लिया था,तो डॉट देते इतना पिटाई की है। की मेरा बच्चा को बुखार आ गया है।उतने में गीतादेवी ने बक झक करते हुए ,लिलामति देवी का बाल पकड़ लिया। तो लिलामति देवी छुड़ाने लगी और चिलाने लगी तो सविता देवी छोटू प्रसाद उर्फ राजेश प्रसाद, मुरारी प्रसाद, गुड्डू कुमार और प्रवीण कुमार भी सारे लोग मिलकर पीटने लगे  पिटते-पिटते खीच कर घर केबाहर खम्भे में बांध कर बिच गांव में जलील करके पीटा ब्लाउज और पेटिकाट भी फट गया था।उसी हालत में पुरे गॉव के सामने पिटाई की किसी ने कुछ नही बोला थोड़ी देर में लिलामति देवी की चचेरी सास आई ।और देख कर बोली छोड़ दीजिए यह मर जाएगी।तो उसे भी पकड़ने के लिए दौड़ पड़े वह भागी-भागी आई घर और लिलामति के घर पर खबर दी ।उसके बेटे सब काम पर गए थे।उन्हें फोन करके इकट्ठा की सब लोग मिलकर उसके घर गए तो सारे लोग फरार थे।फिर उनलोगो ने उसे तांग कर थाना में ले गए वहा पूछ ताछ किया और बोला सबसे पहले इसका इलाज करवाओ उसके बाद इसका FIR लेंगे परैया सदर सप्ताल में सुई दवाई हुआ और वहा से गया मेडिकल सरकारी सप्ताल में रेफर कर दिया थाना FIR लेलिया 22 दिन तक वह मेडिकल में भर्ती रही।डॉक्टर का व्यहार अच्छा नही था अभद्र तरह से बात करता था।पीड़िता के बताए अनुसार मेडिकल में आरोपी ने पैसा दिया है।इंजोरि रिपोर्ट कमजोर होनेके लिए ।थाना मेभी पैसा दिया केश ख़त्म करने के लिए ।लिलामति देवी को भी ककमपर माईज के लिए 50,000 रूपये का लोभ दिया जा रहा है।S.P और D.M पर दबाव होने के कारण  कुड़की जपतिः हुई है ! पीड़िता के निगरानी के लिए 4 चोकी दार दिए गए है। पर सारे लोगो को आरोपी ने खरीद रखा है।आरोपी घर से निकल जाता है। तब पुलिस आता है। F.F टीम ने थाना प्रभारी से मिला तो उन्होंने बताया की घटना सही में घटित हुई है। पीड़िता को बुरी तरह से उनलोगो ने पिटा है। आरोपी फरहार है।हमारा प्रयास जारी है। आरोपी भागा हुआ है।

Total Visitors : 1194052
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)