Dominant people had beat up and miss behave with Dalits (Code: BR/04/2020, Date: 17-Mar-2020 )

Back to search

Case Title

Case primary details

Case posted by NDMJ-Bihar
Case code BR/04/2020
Case year 17-Mar-2020
Type of atrocity Dumps excreta, sewage, carcasses or any other obnoxious substance in premises
Whether the case is being followed in the court or not? No

Fact Finding

Fact finding date

Fact finding date Not recorded

Case Incident

Case Incident details

Case incident date 17-Mar-2020
Place Village: Not recorded
Taluka:Not recorded
District: Motihari(DP)
State: Bihar
Police station SC/ST Police Station
Complaint date 20-Mar-2020
FIR date 20-Mar-2020

Case brief

Case summary

                   दरवाजे पर कचरा फेकने से मना करने पर दबंगों ने दलितों की पिटाई की तथा उसके साथ दुर्व्यवहार किया ,                   --------------------------------------------------------------------------------------------

घटना दिनांक 17.03.2020 को घटित हुई . पीड़ित विजय बैठा , उम्र करीब 32 वर्ष , जाति - अनुसूचित जाति (धोबी ), ग्राम - रेगनिया ,थाना - जितना , जिला - पूर्वी चंपारण , रा ज्य - बिहार का स्थायी निवासी है . घटना की तिथि को पीड़ित श्री बैठा अपने पडोसी अर्जुन बैठा के साथ अपने दरवाजे पर बैठे थे . इसी क्रम में दबंग ग्रामीण 1.श्री मोहन राय एवं 2. श्री अछेलाल राय दोनों जाति - पिछड़ी (अहीर ) उनके दरवाजे पर कचरा फेकने लगें जिअसका पीड़ित द्वारा विरोध किया गया जिसको लेकर बिपक्षी श्री यादव ने अपने तमाम पड़ोसियों करीब 9 लोगों जिसमे म उक्त दोनों के साथ साथ 1. अरविन्द राय 2-पप्पू राय 3.जिया लाल राय 4.मधु राय 5. कमलेश राय एवं उमेश राय आदि को  बुलाकर पीडितो से साथ दुर्व्यवहार किया , जाति सूचक हरिजन साला धोबिया कह कर भंदी भंदी गालिया दी . लाठी डंडा से मार पीट किया . बीच बचाव करने गए 1. दीनानाथ बैठा 2-  राम एकवाल बैठा 3. अर्जुन बैठा 4.सुशिल बैठा 5- आरती कुमारी एवं घर की अन्य महिलाओ के साथ भी हमलावरों द्वारा अभद्र व्यवहार किया और पिटाई की . 

घटना के पीछे कारन यह है की उक्त गाँव यादव बहुल गावं है . यादवो को घरो के बीच में पीडितो का भी घर है . पीड़ित लोग काफी अल्पसंख्यक एवं गरीब है जिसके चलते यादव समुदाय के लोग हमेशा पीड़ितों के साथ अपमान जनक व्यवहार किया जाता है . बिपक्षी लोगो पीड़ित को कमजोर समझकर अपने नाली का पानी तथा घर का कचरा फेकना चाहता है जिसका पीड़ित एवं उनके परिवार के लोग विरोध करते हैं . 

मामले के सन्दर्भ में एससी /एसटी थाना मोतिहारी में कांड संख्या : 28/20 के तहत परथ्मिकी दर्ज की गैयी है . पुलिस मामले के प्रति सम्वेदनशील नहीं है . विपक्षियो द्वारा पुलिस को अपने मेल में कर के मामले को खत्म करने की साजिश की जारही है . 

 

Total Visitors : 1974370
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)
Website is Managed & Supported by Swadhikar