Thakur Dabang people beat up Dalits over paddy irrigation (Code: UP-62 JNP-31, Date: 26-Jul-2020 )

Back to search

Case Title

Case primary details

Case posted by Bhartiya Jan Sewa Ashram
Case code UP-62 JNP-31
Case year 26-Jul-2020
Type of atrocity SC/ST (POA) Act
Whether the case is being followed in the court or not? Yes

Fact Finding

Fact finding date

Fact finding date Not recorded

Case Incident

Case Incident details

Case incident date 26-Jul-2020
Place Village: Not recorded
Taluka:Not recorded
District: JAUNPUR(DP)
State: Uttar Pradesh
Police station Rampur
Complaint date 26-Jul-2020
FIR date 26-Jul-2020

Case brief

Case summary

गरीब मजदूर मेवालाल का लड़का अभिनेश  कुमार सिंह दिनांक 26-7-2020 को अपने धान की फसल की सिचाई के लिए तालाब फाइटर द्वारा पानी निकाल रहा था की पड़ोस गाँव के आकर व रसुलहा रामपुर जौनपुर के स्वर्ण दबंग व ठाकुर जाति के गोलबंद होकर 25 लोगों की संख्या मे तथा हाथ मे लाठी डंडा लेकर मा बहन की भद्दी-भद्दी गालिया  देते हुए दौड़ पड़े और बोले चमार साले इस तालाब से पानी क्यू निकाल रहे हो बंद करो इसी बात को लेकर मारने लगे अकेले अभिनेश चिल्लाने लगे चीख पुकार की आवाज सुनकर दलित बस्ती से महिला पुरुष दौड़ पड़े दबंगों ने इनको चमार चमकटिया साले जान से मार दूंगा बोलते हुए मारने लगे जिसमे प्रेमचंद पुत्र मेवालाल धीरज पुत्र प्रेमचंद रामप्रकाश पुत्र मुरली शिवप्रकाश पुत्र रामदीन ओमप्रकाश मुरली धीरज छोटेलाल नीरज पुत्र शोभनाथ शेर बहादुर पुत्र हरीलाल सूरज पुत्र हँसहराज रवि राम प्रकाश इन लोगों को काफी चोटे आयी है इसके बाद 100 नंबर पुलिस को फोन कर घटना की जानकारी दिया पुलिस मौके आयी जानकारी लेकर दोनों पक्षों को थाना रामपुर भेज दिया इसमे पीड़ित गण थाना रामपुर गए थाना अध्यक्ष महोदय को घटना के संदर्भ मे सूचना देकर अवगत कराया मुकद्दमा दर्ज करने के लिए गुहार लगाया लेकिन मुकद्दमा दर्ज करने को लेकर हिल हवाली करते रहे लेकिन बहुत सिफारिश करने के बस सभी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामपुर भेजा गया लेकिन वहा के डॉक्टर जौनपुर सदर के लिए ररिफर कर दिए जब जौनपुर से मेडिकल कर कर आए तब जाके मुकद्दमा दर्ज किया गया !

 

Total Visitors : 3299241
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)
Website is Managed & Supported by Swadhikar