Nirbhaya again (gang rap and attempt to murder with minor girl) (Code: 02-17-BTL-MP, Date: 29-Apr-2017 )

Back to search

Case Title

Case primary details

Case posted by Kala Ratan Social Education Society
Case code 02-17-BTL-MP
Case year 29-Apr-2017
Type of atrocity Gang Rape
Whether the case is being followed in the court or not? No

Fact Finding

Fact finding date

Fact finding date Not recorded

Case Incident

Case Incident details

Case incident date 29-Apr-2017
Place Village: Not recorded
Taluka:Not recorded
District: BETUL(DP)
State: Madhya Pradesh
Police station Sarni
Complaint date 01-Jun-2017
FIR date 17-Jun-2017

Case brief

Case summary

29अप्रैल2017 की रात 10:30 से 11 बजे के लगभग कैलाश नगर शोभापुर सारनी निवासी सोलह वर्षीय लड़की सपना बगाहे को उसका ब्वायफ्रेमड सागर कुरारिया बात करने के लिये मिलने बुलाता है.  जिस पर वह अपनी सहेली से पूछकर मिलने चली जाती है.  सागर के घर पर सागर के अलावा पांच लड़के और मिलते हैं जिसे वो पहचानती है,  सागर से वह उनके वहां होने पर आपत्ति जताती है तो पांचो वहां से चले जाते हैं.  तब सागर कमरा बंद कर सपना के साथ जोर जबरदस्ती कर शारिरिक संबंध बनाता है.  सपना के विरोध करने और बाहर भागने पर वह पीछे से उसके सर पर वार करताहै और चाकलेट खिलाता है.  सर पर और अधिक वार करता है जिससे सपना बेसुध हो जाती है.

जबउसे होश आता है तो वह खुद को हास्पिटल में पाती है और उसके शरीर में कोई हलचल नहीं होती है.  गर्दन के नीचे का हिस्सा पैरालिसिस हो चुका है. 

इधर सपना के घर में उसके जो सुबह जल्दी उठ जाते हैं उन्हे सपना बिस्तर पर नहां दिखती तो वो सपरिवार उसे ढूंडते है.  सपना उन्हे पीछे बाउंडरी के गेट पर पड़ी मिलती है जिसे लेकर वे अपने डिपार्टमेंट wcl हास्पिटल ले जाते हैं वहां से गंभीर हालत कोदेखते हुए सपना को नागपुर रैफर कर दिया जाता है. 

घर नें किसी को समझ नहीं आता है कि आखिर हुआक्या है.  22 दिन कॉमा में रगने के बाद सपनाको होश आता है लेकिन वह बोल नहीं पाती है. उसके कुल्हे की हड्डी,  रीढ़,  पसलियां टूट चुकी है.   धीर धीरे वह स्थिति को समझ पाती है और उसके साथ जो हुआ वह जैसे जैसे याद आता है अपने परिजन को बताती है.  तब 17 जून2017 को सपना के पिता सुनील बगाहे थाना सारनी में आवेदन देकर कार्रवाई की मांग करते हैं.  लेकिन पुलिस मामले को टालमटोल करती है. एक आरोपी सागर कुरारिया को गिरफ्तार कर रिमांड पर ना लेकर जेल भेज देती है.  इधर सपना पांच और आरोपियों के नाम बताती है जिन्होने उसके साथ बलात्कार किया था लेकिन पुलिस उसकी बात नहीं सुनती है.  मामला सुर्खियों में आने पर समाजसेवी,  सामाजिक संगठन हंगामा, रैली, ज्ञापन देते हैं तब कहीं जाकर पुलिस 12जुलाईको चालीस किलो मीटर दूर पहाड़ी रास्ते से ले जाकर 168मजिस्ट्रेट के सामने बयान दर्ज कराती है इस बीच सपना की हालत बहुत बिगड़ जाती है(विडियो कांफ्रेंस नहीं करवाती) बयान होने के तुरंत बाद दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया.  

प्रशासन की तरफ से सपना को कोई चिकित्सा सहायता नहीं दी जा रही है.  सरना के पिता जहां नौकरी करते हैं wcl कंपनी द्वारा सपनी को सिकंदराबाद स्थित गोमती हास्पिटस में इलाज करवाया जा रहा है.  डॉक्टरों का कहना है - सपना के घाव ठीक हो रहे हैं लेकिन उसके शरीर का निचला हिस्सा ठीक नहीं हो सकता

Total Visitors : 804258
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)