SC/ST 3(2)VI, 3(2)VII, 4 (Code: UP-VNS-0542, Date: 08-Jun-2016 )

Back to search

Case Title

Case primary details

Case posted by Jan Adhikar Manch
Case code UP-VNS-0542
Case year 08-Jun-2016
Type of atrocity Protection of Civil Rights Act
Whether the case is being followed in the court or not? No

Fact Finding

Fact finding date

Fact finding date Not recorded

Case Incident

Case Incident details

Case incident date 08-Jun-2016
Place Village: Not recorded
Taluka:Not recorded
District: VARANASI(DP)
State: Uttar Pradesh
Police station Not recorded
Complaint date 23-Jul-2016
FIR date 31-Dec-1969

Case brief

Case summary

सेवा में,

      श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय,

      जनपद-वाराणसी

विषय: प्रार्थिनी व अन्य ग्रामवासियों द्वारा मनरेगा में काम न मिलने पर काम के सम्बन्ध में सामाजिक कार्यकर्त्ता श्री अनिल कुमार मौर्य के माध्यम से सभी दलित मनरेगा श्रमिकों का मनरेगा में काम की मांग के संबंध में पत्र खंड विकास अधिकारी हरहुआ, वाराणसी को भेजने पर उनके द्वारा जनबूझकर व दलित विरोधी मानसिकता से गलत रिपोर्ट भेजने के संबंध में |

महोदय,

      निवेदन है कि प्रार्थिनी दुर्गावती देवी पत्नी शिवकुमार निवासी ग्रा-पश्चिमपुर(चमाव) ब्लाक हरहुआ, पोस्ट व थाना-शिवपुर, जनपद वाराणसी की स्थाई निवासिनी हूँ व जाति की दलित (चमार) महिला हूँ | मैंने व मेरे साथ 93 दलित मनरेगा श्रमिकों ने काम न मिलने पर सामाजिक कार्यकर्त्ता श्री अनिल कुमार मौर्य जी के माध्यम से मनरेगा में काम करने के लिए काम का मांग पत्र भरवाकर खंड विकास अधिकारी-हरहुआ, वाराणसी को पंजीकृत डाक से भेजवाया था | जिस पर सिर्फ मुझे व अन्य 63 लोगों को सिर्फ 5 दिन का ही काम मिला | 5 दिन के पश्चात रोजगार सेवक रूपनारायन के द्वारा यह कहते हुए काम बंद करा दिया गया कि अब काम नहीं है |

      जब इसकी शिकायत सामाजिक कार्यकर्त्ता श्री अनिल कुमार मौर्य जी के द्वारा उच्चाधिकारियों से की गयी तो खंड विकास अधिकारी हरहुआ, वाराणसी और ग्राम पंचायत अधिकारी पश्चिमपुर(चमाव), विकास खंड हरहुआ, वाराणसी द्वारा यह रिपोर्ट लगाया गया कि कुल 72 व 11 श्रमिकों को अलग-अलग 14 दिन का काम दिया गया था पर श्रमिकों ने 5 दिन काम करके छोड़ दिया | यह रिपोर्ट खंड विकास अधिकारी हरहुआ, वाराणसी द्वारा ग्राम पंचायत अधिकारी पश्चिमपुर(चमाव), विकास खंड हरहुआ, वाराणसी से पूछताछ और अभिलेखों के अवलोकन के पश्चात लगायी गयी है | जबकि सत्यता यह है कि 5 दिन के पश्चात रोजगार सेवक के द्वारा ही काम बंद करा दिया गया इस बात का प्रमाण ग्राम पंचायत अधिकारी पश्चिमपुर(चमाव), विकास खंड हरहुआ, वाराणसी श्री अरुण वर्मा के द्वारा अपने मोबाइल नंबर 9935464631 से अनिल कुमार मौर्य के मोबाइल नंबर 9125040585 पर दिनांक 25.05.2016 की गयी वार्ता से भी साबित होता है जिसकी ऑडियो रिकॉर्डिंग मोबाइल में उपलब्ध है | उपरोक्त दोनों अधिकारीयों के द्वारा प्रार्थिनी व अन्य 93 श्रमिकों के दलित (चमार) जाति का होने की वजह से अपमानित करने के लिए काम चोर साबित करने की नियत से जानबूझकर दलित विरोधी मानसिकता के कारण काम व उसके भुगतान के संबंध में गलत रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेजी गयी जोकि दलित अधिनियम का सीधे उल्लंघन व अपराध है जिसके संबंध में उपरोक्त के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज कर कठोर कानूनी कार्यवाही किया जाना आवश्यक व न्याय सांगत है | इस प्रार्थना पत्र के साथ प्रार्थिनी व अन्य 93 श्रमिकों द्वारा काम के संबंध में भेजा गया प्रार्थना पत्र व खंड विकास अधिकारी-हरहुआ, वाराणसी की रिपोर्ट संलग्न है | व अन्य दलित श्रमिकों के हस्ताक्षर/निशानी अंगूठा लगा पेज संलग्न है |

अत: श्रीमान जी से सादर अनुरोध है कि उपरोक्त लोगों के विरूद्ध संबंधित थाना शिवपुर, वाराणसी में जानबूझकर दलितों का अपमान करने, दलितों के खिलाफ झूठी रिपोर्ट लगाने जिससे की दलितों का आर्थिक व मानसिक उत्पीडन हो व दलितों के प्रति अपने कर्तव्यों का सही से निर्वहन न करने के खिलाफ दलित अधिनियम में रिपोर्ट दर्ज कर कठोर कानूनी कार्यवाही करने की कृपा करें |

संलग्न : 1-अनिल कुमार मौर्य द्वारा BDO-हरहुआ, वाराणसी को भेजे गए प्रार्थना पत्र की छायाप्रति (3 पेज)

         2-BDO हरहुआ की जाँच रिपोर्ट (1 पेज)

         3-अन्य दलित श्रमिकों के हस्ताक्षर/निशानी अंगूठा लगा पेज (2 पेज)      

दिनांक : 23/07/2016                                                                              प्रार्थिनी

 

                                                                                       पता- ग्रा-पश्चिमपुर(चमाव) ब्लाक हरहुआ, पोस्ट                                                                                        व थाना-शिवपुर, जनपद वाराणसी-221003

                                                                                       दूरभाष-

Total Visitors : 804322
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)