Teacher Threw Dish Plate on Dalit Girl in School, Piprakothi, Bihar (Code: FF Code : BR/ Ech/ oo, Date: 31-Aug-2016 )

Back to search

Case Title

Case primary details

Case posted by NDMJ-Bihar
Case code FF Code : BR/ Ech/ oo
Case year 31-Aug-2016
Type of atrocity Abuses by caste name in any place within public view
Whether the case is being followed in the court or not? No

Fact Finding

Fact finding date

Fact finding date Not recorded

Case Incident

Case Incident details

Case incident date 31-Aug-2016
Place Village: Not recorded
Taluka:Not recorded
District: Motihari(DP)
State: Bihar
Police station SC/ST Police Station Motihari
Complaint date 05-Sep-2016
FIR date 05-Sep-2016

Case brief

Case summary

कश में आया है I विधालय में शिक्षको की कुल संख्या 14 है जो जिसमे एकमात्र शिक्षका अनुसूचित जाति की है I इसमें कूल छात्र-छत्राओ की संख्या 516+577=1093 है जिसमे 44 +67=111 अनुसूचित जाति के छात्र एवं छात्राये है I विद्यालय में 6 रसोईया कार्यरत है जो सभी एक ही जाति तेली समाज से है जिसमे अनुसूचित जाति से एक भी रसोइया नहीं है I घटना के दिन विद्यालय में शिक्षको द्वारा कार्यालय में मांस-भात बना था एवं शिक्षक लोग मांस-भात खा रहे थे I उसी क्रम में शिल्पी कुमारी भोजन करने के लिये कार्यालय में प्लेट लाने गयी तो शिक्षक उसे भगा दिए की तुम जाओ और दस मिनट के बाद आना I दस मिनट के बाद जब पुन: पीडिता प्लेट लाने गयी तो देखी की शिक्षक लोग मांस-भात खा रहे है I तब पीडिता ने उनसे कहा की आपलोग मांस-भात खा रहे है और हमलोग खिचड़ी-चोखा खा रहे है I इसी बात से क्षुब्द होकर शिक्षिका कबिता वर्मा ने उसके मुंह पर झूठा प्लेट फ़ेंक दिया तथा अन्य प्रधान शिक्षक सचिंदर कुमार प्रसाद ने बोला की मांस-भात तुम्हारे बाप का खाते है तथा अन्य शिक्षका रौशन आरा , अंजुम आरा , प्रियंका सिन्हा ने बाल पकड़ कर पिटाई शुरू कर दी तथा उनलोगों ने गन्दी-गन्दी जातिसूचक गलियाँ देने लगी I सभी ने उसकी इतनी पिटाई की कि वह वंही पर  बेहोश हो गयी I तब शिल्पी को स्कूल के अन्य सहयोगी छात्र अंकुश कुमार , विपुल कुमार , अमन कुमार , पुष्प कुमारी , सुनीता आदि छात्रो ने उसे उठाकर संदीप कुमार के दवा की दुकान पर ले गये जंहा उसका उचित इलाज़ हुआ I उसके बाद पुन: दुसरे दिन सभी शिक्षक विद्यालय आये और प्राथर्ना करने के बाद सिर्फ कार्यलय बंद कर विद्यालय को खुला छोड़ BRC भाग गये तब क्रोधित होकर छात्रो ने कोटवा मोतिहारी मुख्य पथ को जाम कर दिया I जाम स्थल पर प्रखंड विकास पदाधिकारी , प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी पिपरा कोठी तथा तुरकौलिया थाना के दारोगा मनोहर सिंह के पहल पर जाम यह कहर समाप्त कराया गया की जल्द ही मामले सुलझा लिया जायेगा I परन्तु शिक्षको ने साजिश के तहत पीडिता का इलाज़ करने वाले संदीप कुमार पर एक मनगढ़ंत मुकदमा दर्ज करा दी I उसके बाद जब पीडिता को न्याय नहीं मिला उसने sc/st थाना मोतिहारी पहुंचकर प्राथमिकी दर्ज करायी 

Total Visitors : 776248
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)