A Dalit youth injured by dominant people (Code: BR/257/19, Date: 28-Jul-2019 )

Back to search

Case Title

Case primary details

Case posted by NDMJ-Bihar
Case code BR/257/19
Case year 28-Jul-2019
Type of atrocity Other Crimes Against SCs
Whether the case is being followed in the court or not? No

Fact Finding

Fact finding date

Fact finding date Not recorded

Case Incident

Case Incident details

Case incident date 28-Jul-2019
Place Village: Not recorded
Taluka:Not recorded
District: MOTIHARI
State: Bihar
Police station Dhaka
Complaint date 28-Jul-2019
FIR date 28-Jul-2019

Case brief

Case summary

मैं कमोद कुमार पिता श्री योगेन्द्र राम ग्राम पटेल नगर ढाका थाना ढाका पोस्ट ढाका अनुमंडल सिकरहना का स्थायी निवासी हूँ ,तथा अनुसूचित जाति (चमार)का सदस्य हूँ | (1) दीनानाथ राउत उम्र 35 वर्ष (2)रामनाथ राउत उम्र (30) वर्ष दोनों वल्दान स्व राम जगत राउत (3)मोहन राउत उम्र 50 वर्ष (4) अरुण राउत उम्र 40 वर्ष दोनों वल्दान स्व जगदीश राउत (5) रामा राउत उम्र 28 वर्ष (6) राधा राउत उम्र 25 वर्ष दोनों वल्दान मोहन राउत (7) राजेश कुमार सिंह उम्र 40 वर्ष वल्दान अभय सिंह सभी पटेल नगर ढाका तथा (8) अवनीश कुमार सिंह उम्र 28 वर्ष वल्दान ललन सिंह ग्राम चैनपुर ढाका का निवासी हैं | ये सभी हम लोग के साथ  हीन भावना से समाज में देखता है तथा छुआ छूत  रखता है हमलोगों को हमेशा मारते पीटते रहता है तथा  जाति के नाम(चमार) से ही बुलाता है समाज में जानवर के तरह हमारे साथ ये सभी व्यवहार करता, तथा पड़तारित करता है |  28-07-2019 को सुबह उपर्युक्त सभी लोगो ने जान से मारने के लिए घर के पड़ोस में खड़ा था फरसा, लाठी, लिए एक साथ हमला कर पीटने लगा रामनाथ ने अपने हाथ से फरसा मेरे  सर पर चलाया मेरा सर फाट गया तथा लहूलुहान ज़मी पर मैं गिर पड़ा रामनाथ ने फिर फरसा चलाया तो मैं बचा फरसा ज़मी में धस गया  तथा मेरा जान बाल बाल बचा तथा दीनानाथ राउत, मोहन राउत, अरुण राउत, रामा राउत, राधा राउत, राजेश कुमार सिंह, अवनीश कुमार सिंह मेरे शरीर के हर भाग पर लाठी से मारने लगा  ग्रामीण बिच बचाव में आया तो ग्रामीण को भी मारने लगा दो ग्रामीण भी घायल हो गया | ग्रामीणों के मदद से हम तीनों को रेफरल हॉस्पिटल लाया गया तथा इलाज के बाद नाजुक हालत देखते हुए यहाँ के स्थानीय डॉक्टर के द्वारा अच्छा इलाज के लिए जिला के रेफरल हॉस्पिटल में रेफर किया गया | तथा ग्रामीणों के मदद से दोषियों पर थाना में मुक़दमा किया गया जो कांड संख्या 257/19 दर्ज किया गया | पिछले साल भी मेरे माँ को घर में घुस कर कामिनी देवी तथा उसका दोनों बेटा दीनानाथ राउत , तथा रामनाथ राउत मारा पीटा | माँ ने इसके अत्याचार से तंग आकर ग्रामीणों के सहायता से  थाना में मुक़दमा की ढाका थाना में कांड संख्या 528/18 दर्ज है तथा यहाँ के प्रशाशन दोषी को सजा दिलाने में असफल रही तथा को दोषी को बढ़ावा देते रहा जिससे दोषी का मनोबल बढ़ गया और मुझे जान से मारना चाह रहा है | दोषी कांड संख्या 257/19 आज भी बाहर घूम रहा है तथा जान मारने की धमकी दे रहा है एक बार बच गया दोबारा में नहीं बचेगा | पुलिस इसमें भी असफल दिखाई दे रही है तथा दोषी गुनाह करने के लिए आजादी से घूम रहा है | अनुसूचित जाति(चमार)  होना पाप के समान समाज में अपने आपको देख  रहा हूँ | प्रशाशन से विनम्र निवेदन है कि दोषियों को जल्द से जल्द सजा दे| 

Total Visitors : 1619472
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)
Website is Managed & Supported by Swadhikar