Total records:624

previous123456789...124125next

दलित छात्रा के साथ अध्यापिका द्वारा मारपीट वः माता पिता के साथ जातिय गालिगलोच at HMR

                    यह घटना जिला हमीरपुर के गांव अमनेड की है यह गांव जिला मुख्यालय से 20 कि०मी० की दुरी पर है इस गांव में दलित जाति में से इस गांव में चमार जाति के 80 घर, राजपूत जाति के 200 घर, ब्राहमण जाति के 03, लोहार जाति के 10, जुलाहा जाति के 8 व् तरखान जाति के 15 घर हैं. इस गांव में 8th कक्षा तक स्कुल है और डिस्पेंसरी व पशु चिकित्सालय भी है इस गांव में गर्मियों के समय में पानी की अक्सर दिक्कत रहती है. इस गांव में चमार जाति में से संतोष कुमारी पत्नी सुरेश कुमार अपने परिवार सहित रहती है. उसकी बेटी गरिमा जो की गांव के ही सरकारी स्कूल में चौथी कक्षा में पढ़ती है 22/08/19 को शाम 6 बजे के करीब गरिमा ने अपनी माता को बताया की ममी जो स्कुल में नई टीचर आई है उसने उसे दस थपड लगाए और कहा की कल को अपनी ममी को लेकर आना ओर कल से वो ही तुझे पढाये गी क्योंकि संतोष कुमार ने किसी महिला साथी से बात कर दी थी की जब से नई टीचर आई है तो उसकी बेटी पढने लिखने में काफी पीछे हो गई है वही बात किसी ने  स्कूल में टीचर रजनी ठाकुर तक पहुंचा दी दुसरे दिन 23/08/19 को 10:30 बजे सतोष कुमार बार्ड पंच शबन व पड़ोस से साथी महिला दीपा देवी को साथ लेकर स्कूल पहुँच गई स्कूल में जब वह अपनी बेटी की कक्षा में गई तो टीचर रजनी ठाकुर ने बार्ड पंच शबन व् दीपा देवी को कक्षा के बाहर ही रोक दिया की आप अन्दर नै आ सकती उसने सिर्फ संतोष कुमारी को अंदर बुलाया और नीचे बैठने को कहा संतोष कुमारी नीचे बैठ गई और रजनी ठाकुर बोली एक कुर्सी पर मै बैठी हु एक कुर्सी पर मेरा पर्स रखा हुआ है तेरी कोई औकात नहीं मेरे बराबर बैठने की तू चमारी घास काटने वाली और गोबर उठाने वाली है. इतने में टीचर रजनी ठाकुर बच्चों के सामने जोर जोर से चिल्लाने लगी की पढ़ा बच्चों को और संतोष कुमारी के सामने ही उसकी बेटी गरिमा को पीटने लग गई सतोष कुमारी ने इस बात का विरोध किया और अपनी बेटी को अपनी तरफ खिंच लिया फिर रजनी ठाकुर गिलास में पानी पीने लग गई और गिलास का आधा झूठा पानी संतोष कुमारी के मुहं पर फेंक दिया शबन व दीपा देवी ने इस बात का विरोध किया तो टीचर रजनी ठाकुर ने सतोष की बेटी को गले से पकड़ लिया और बाकी दलित बच्चों के भी लातों से पीटने लग गई सतोष कुमारी शबन व् दीपा ने बड़ी मुश्किल से गरिमा को उसकी चुंगल से छुडाया जिस कारण गरिमा के गल्ले पर काफी खरोचे आई इस घटना को लेकर बार्ड पंच शबन ने थाना में फोन किया पर 2:30 तक पुलिस मौके पर आई और उलटा संतोष कुमारी शबन व दीपा देवी को डाटने लग गई व टीचर रजनी को घर भेज दिया शाम को काफी पुलिस पर दबाब बनाने पर मामला दर्ज किया गया व गरिमा का मेडिकल करवाया गया. 

  • Posted by: NDMJ - Himachal Pradesh
  • Fact finding date: 27-08-2019
  • Date of Case Upload: 01-10-2019

Images

         

Massacre to Adivasi in Sonbhadra

    Case details is not available
  • Posted by: NDMJ-UP
  • Fact finding date: 29-07-2019
  • Date of Case Upload: 11-09-2019

unnatural sex offence with minner unsound boy

    Case details is not available
  • Posted by: Centre for Dalit Rights
  • Fact finding date: Not recorded
  • Date of Case Upload: 06-09-2019

Gang raped with Dalit miner girl

    it\'s a very heinous crime where a \"Dalit minor girl Roopwanti  is a student  of 8th class of government school.She is  of 12 years resident  of Village  Piplakheda,Post Gagwana,Tahsil Mahwa, District Dausa .The Accused Mann Singh came at Heera Lal Bairwa\'s house for installing bore along with other persons. He somehow received the number of the victim from there.He made a call to victim and managed to call her near ITI College Balaheda Chauki.When the victim arrived at the destination.She found accusedthere who took her to deeg Bharatpur.The accused flew away leaving victim alone at a Tea Stall.Finding her self alone and helpless,The victim started working word Mahwa where she borrowed a mobile for from one Rajesh Saini to make a call to her family but the call didnot connect. The challanges a victim do not end here,The accused Rajesh Saini believing Roopwanti to be alone and helpless,followed her and convenienced her to sit with him in his motorcycle stateing that he is also going to Mahwa.From there the accused took her in the isolated woods.The accused called two other friends of him and committed rape with her one by one.it is also alleged that she was administered Alcohal. One of the co-accused took the victim to his place and again raped with her at night.


    next day the victim was taken Goverdhan were she was  confined in a rented house and continuously was raped by the accused.The victim got a chance to speak to with a Railway police when she apprehended that the accused are making deal with somebody to sell her.


    The FIR no. 0330/2019 dated 24/06/2019 under section 363, 376D of IPC and section5,6 of POCSO Act and SC/ST Act3(ii)(Va), was lodged against the accused under police station Mahwa,Dausa(Copy enclosed). The chargesheet has been filed .


     

  • Posted by: Centre for Dalit Rights
  • Fact finding date: 27-07-2019
  • Date of Case Upload: 26-08-2019

Road Block of Dalit Community and by caste abused

     


                    यह घटना जिला ऊना की है. जिला ऊना की तहसील बंगाणा के गांव डडयार डाकघर तनोह, तह बंगाणा, जिला ऊना हि०प्र० की है इस गांव में चमार जाति 50 घर, ब्राहमण जाति के 2 घर राजपूत जाति के 2 घर कुम्हार जाति के 2 घर व् कबीर पंथी समाज के 8 घर है यह गांव तहसील बंगाणा से लगभग 13 कि०मी०की  दुरी पर है.इस गांव की  दलित बस्ती के लिए रास्ते की समस्या 59 वर्ष से चली आ रही है. इस गांव की दलित बस्ती को आने जाने के लिए कागजों में कुल 3 मीटर चौड़ा रास्ता है. पर मुख्य सडक से 20 मीटर पक्का रास्ता आगे बस्ती की तरफ आने के बाद गांव के ही राजेश कुमार शर्मा स्पुत्र सुहडू राम शर्मा ने कई बार इस रास्ते में बाड़ लगा दी है और उसका कहना है की यह उसकी मलकियत है और वह इस रास्ते को पका नहीं होने देगा और ना ही इस रास्ते से किसी को आने जाने देगा लगभग डेड वर्ष पहले इस डडयार गांव के आठ घरों में आग लग गई थी पर इस उक्त राजेश कुमार के परिवार ने फायर वर्गेड की गाडी व SDM बंगाणा की गाडी आगे नहीं जाने दी थी जिस कारण घर पूरी तरह से जल कर राख हो गए थे इस रस्ते बंद के चलते एक व्यक्ति की म्रत्यु भी हो चुकी है गांव बासी बाड़ लगाने उपरांत जिला ऊना में प्रशासन के पास चकर काटते है तब वह बाड़ हटा देता है पर फिर थोड़े समय बाद बाड़ लगा देता है. वह हर वक्त बस्ती के लोगों को जाति सूचक गालियाँ निकालता रहता है हमारा शासन प्रशासन से अनुरोध है की इस रास्ते की समस्या का जल्द से जल्द समाधान किया जाए वह इस रास्ते को पक्का किया जाए. क्योंकि इस बस्ती के लिए दो रास्ते लगे हुए है और राजस्व भू विभाग में दर्ज है और दोनों गैर मुमकिन है सरेआम रास्ता है खसरा न० 361 पर राजेश कुमार शर्मा स्पुत्र सुहडू राम शर्मा ने अपना मकान बना लिया है और फसल बीज रखी है और दूसरा रास्ता खसरा न० 358 जो की तीन मीटर चौड़ा है और पुश्तों से बस्ती के लोग उस पर आ जा रहे है पर उसको व बंद कर देता है.

  • Posted by: NDMJ - Himachal Pradesh
  • Fact finding date: 24-08-2019
  • Date of Case Upload: 26-08-2019

Images

   
previous123456789...124125next
Total Visitors : 1653423
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)
Website is Managed & Supported by Swadhikar