Total records:1004

Rape and Murder with dalit women in Bhartpur

    Case details is not available
  • Posted by: Centre for Dalit Rights
  • Fact finding date: 23-10-2020
  • Date of Case Upload: 31-08-2021

Gang rape of dalit girl

    Case details is not available
  • Posted by: Centre for Dalit Rights
  • Fact finding date: 05-07-2021
  • Date of Case Upload: 30-08-2021

Deadly attack on Dalit woman

    Case details is not available
  • Posted by: Centre for Dalit Rights
  • Fact finding date: 03-02-2021
  • Date of Case Upload: 30-08-2021

A 15years old Dalit Student(girl) Gang rape by Dominant people

                                          15 वर्षीय दलित छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार 


                                        --------------------------------------------------------


    मानवता को शर्मशार करने वाली उक्त घटना सूबे बिहार के पूर्वी चंपारण जिले के चकिया थाना क्षेत्र के शेखी चकिया गांव के अनुसूचित जाति सदस्य विनोद राम की 15 वर्षीया पुत्री जो वर्ग 10 में पद्धति है के साथ घटित हुई . कहते है कि  दिनांक 17.08.2021 की रात्रि करीब 11 .00  बजे ग्रामीण  मो० अरसद ,पिता - मो० आसुद्दीन तथा उनके समन्धि मो० अरसद ,पिता - मो० रइश ,ग्राम - छोटका खजुरिया ,थाना कोटवा , जिला पूर्वी चंपारण दोनों पूर्व योजना के अनुसार , विनोद के दरवाजे पर गए और उसकी पुत्री सुनीता कुमारी  को जबरन उठाकर व् मुँह दबाकर बगल की बास्वारी में ले गए उरत उसके स्था बारी बारी से दुष्कर्म की  घटना को अंजाम दिया . उक्त संदर्भ में चकिया थाना में दिनांक : 19 . 08 .2021 को कांड संख्या  232 / 21 U/S 376 (3) / 34 ipc & 6 POCSO act के तहत उक्त आपराधियो के विरुद्ध  परथ्मिकी दर्ज की गैयी है . बताते हैं कि पुलिस आपराधियो के मेंल में आ गए हैं . इसलिए पुलिस आरोपियों की बचाव में मामले साक्ष्य को ख़त्म करने की कोशिश की जा रही थी . कारन यही है की पुलिस द्वारा घटना के दो दिनों बाद परथ्मिकी दर्ज की गई और तीन दिनों बाद जानबूझ कर मेडिकल कराया गया . पीडिता को किसी पारकर की आर्थिक सहायता पर्दान नहीं की गई है .  मालूम हो की उक्त गँवा में करीब 3000 मुस्लिम जाति के लोग रहतें है जबकि अनुसूचित जातियों की संख्यां मात्र तीन घर है . मुसलिम विरादरी के सामने अनुसूचित जाति का उस गांव में कोई वजूद नहीं है . उक्त गांव में रहकर पीड़ित आपराधियो को सजा दिलाने में सफल हो पाएंगे यह कहना काफी मुश्किल है . पुलिस द्वारा अब तक एक भी आपर्धि को गिरफतार नहीं कर सकी है . 


     


     

  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: 20-08-2021
  • Date of Case Upload: 29-08-2021

Images

 

Files

1) FIR 
2) Case brief 
3) News clipping 

Dalit Driver is beaten to death

    Case of Brief


    Date-06.02.2021 at 10:45 hrs day Lalji Prasad's son Late Harinath, whose age is about 60 years.
    Rampur is a resident of Khas and had gone to the market with his magic vehicle with vegetables
    as usual and parked the car in front of the shop of people like Ankit Ashish Kumar Jaiswal and
    Amit Kumar Jaiswal and went to the nearby shop as soon as they came. People started speaking to
    remove the car and started abusing, after that the caste indicator started abusing and started
    beating, kicking, punching and punching the chest, due to which they fell on the ground and
    started suffering.
    After that the people around called Lalji's house and informed, then the family members came and 

    picked him up in a hurry but he had died, then his son Pramod Kumar gave the written Tahrir to 
    the police station, after that the body of the deceased was sent to Jaunpur for postmortem. sent|
  • Posted by: Bhartiya Jan Sewa Ashram
  • Fact finding date: 10-02-2021
  • Date of Case Upload: 29-08-2021


Files

1) FIR COPY 
2) FACT FINDING REPORT 
Total Visitors : 2813506
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)
Website is Managed & Supported by Swadhikar