Total records:713

Police is not registering FIR against attackers despite Dalit youth leaving village in fear of murder

                                    दलित परिवार पर जानलेवा हमला बोलने वालो के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज नहीं कर रही है पुलिस ,


                                                   ह्त्या की धमकियों के डर से गाँव छोड़ डाला दलित युवक  


    -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------


    घटना 29 मार्च 2020 को घटित हुई . पीड़ित कन्हैया राम , पिता -भूलन राम , उम्र करीब 27 वर्ष , जाति -अनुसूचित ( चमार )  , ग्राम -  ,थाना -बैकुंठपुर , जिला - गोपालगंज का निवासी है . पीड़ित अपने गावं में अपने बिरादरी का मात्र -तीन घर है , उक्त  गाँव में करीब २०० परिवार राजपूतों का है . राजपुर लोग इतना दबंग है की उनके डर से कोई बोलने का हिम्मत भी नहीं करता है . राजपूत बिरादरी के लोगो द्वारा ही पीडितो के साथ घटना को अंजाम दिया गया है l बताते है कि घटना के रोज पीड़ित अपने परिवार के सदस्यों के साथ लोकडाउन  के चलते अपने दालान पर कुर्सी पर बैठा था . उसी रास्ते राजपूत जाति के दबंग ग्रामीण - नीरज सिंह गुजर रहे थे . पीड़ित ने नीरज को देखते कुर्सी नहीं छोड़ी जिल्सको लेकर श्री  सिह पीड़ित पर आग बबूला हो गए और जाति सूचक गालिया देते हुए मर पिट करने पर उतारू हो गए .पीडितो द्वारा बिरोध करने पर उन्होंने अपने परिवार व पड़ोसियों को आवाज देकर बुला लिये और पीड़ित व् उनके परिवार के सदस्यों को बेरहमी से लाठी डंडा से पिटाई करने लगे . उनले घरेलु साम्मान कुर्सी , टेबल , चारा कटाने की मशीन एवं घर के छज्जा को क्षतिग्रस्त कर दिया . घट्न को अंजाम देने में नीरज सिंह के साथ साथ ajदीपक सिंह , हरेन्द्र सिंह , निप्पू सिंह सहित करीब एक दर्जन लोग शामिल थे . स्थानीय लोगो ने बीच बचाव कर मामला को शांत किया . नीरज सिंह एवं अन्य द्वारा केस करने पर जान मारा देने एवं झूठे मुकदमो में फंसा कर बर्बाद कर देने की धमकियां दी गयी . उक्त घटना का पूर्वती कारन भी काफी महत्त्व पूर्ण है . करीब 01 महीने पूर्व राजपूत वर्ग के एक व्यक्ति ने एक मोची को जूता मरम्मतe करने में देर हो जाने पर सरेयाम पिटाई की जा रही थी . पीड़ित ने उक्त मामले में जबरदस्त हस्तक्षेप किया . तथा उक्त मामले  में पीड़ित गवाह भी है जिसको लेकर राजपूत वर्ग के लोग पीड़ित को टारगेट कर चौका है . पीड़ित द्वारा अपने साथ घटित घटना की प्राथमिकी के लिय स्थानीय बैकुंठपुर थाना में आवेदन दिया गया पर अब तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है . जब बैकुंठपुर थाना में प्राथमिकी दराज नहीं की गैयी तो एससी / एसटी थाना गोपालगंज में आवेदन दिया गया पर वही भी प्राथमिकी दर्ज नहीं की गयी . आरिओपी इतना दबंग व् पहुँच पैरवी वाला है की पीड़ित की प्राथमिकी भी दर्ज नहीं होने दे रहा है . आरोपियों द्वारा थाना से आवेदन वापस लेलेने  का दबाव बनाया जा रहा है अन्यथा जान से मार देने की धमकियान दी जा रही है . डर के मारे पीड़ित गावं छोड़ दिया है . 


    u

  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: 10-04-2020
  • Date of Case Upload: 10-04-2020


Files

1) application of FiR and other 

Dominant people had beat up and miss behave with Dalits

                       दरवाजे पर कचरा फेकने से मना करने पर दबंगों ने दलितों की पिटाई की तथा उसके साथ दुर्व्यवहार किया ,                   --------------------------------------------------------------------------------------------


    घटना दिनांक 17.03.2020 को घटित हुई . पीड़ित विजय बैठा , उम्र करीब 32 वर्ष , जाति - अनुसूचित जाति (धोबी ), ग्राम - रेगनिया ,थाना - जितना , जिला - पूर्वी चंपारण , रा ज्य - बिहार का स्थायी निवासी है . घटना की तिथि को पीड़ित श्री बैठा अपने पडोसी अर्जुन बैठा के साथ अपने दरवाजे पर बैठे थे . इसी क्रम में दबंग ग्रामीण 1.श्री मोहन राय एवं 2. श्री अछेलाल राय दोनों जाति - पिछड़ी (अहीर ) उनके दरवाजे पर कचरा फेकने लगें जिअसका पीड़ित द्वारा विरोध किया गया जिसको लेकर बिपक्षी श्री यादव ने अपने तमाम पड़ोसियों करीब 9 लोगों जिसमे म उक्त दोनों के साथ साथ 1. अरविन्द राय 2-पप्पू राय 3.जिया लाल राय 4.मधु राय 5. कमलेश राय एवं उमेश राय आदि को  बुलाकर पीडितो से साथ दुर्व्यवहार किया , जाति सूचक हरिजन साला धोबिया कह कर भंदी भंदी गालिया दी . लाठी डंडा से मार पीट किया . बीच बचाव करने गए 1. दीनानाथ बैठा 2-  राम एकवाल बैठा 3. अर्जुन बैठा 4.सुशिल बैठा 5- आरती कुमारी एवं घर की अन्य महिलाओ के साथ भी हमलावरों द्वारा अभद्र व्यवहार किया और पिटाई की . 


    घटना के पीछे कारन यह है की उक्त गाँव यादव बहुल गावं है . यादवो को घरो के बीच में पीडितो का भी घर है . पीड़ित लोग काफी अल्पसंख्यक एवं गरीब है जिसके चलते यादव समुदाय के लोग हमेशा पीड़ितों के साथ अपमान जनक व्यवहार किया जाता है . बिपक्षी लोगो पीड़ित को कमजोर समझकर अपने नाली का पानी तथा घर का कचरा फेकना चाहता है जिसका पीड़ित एवं उनके परिवार के लोग विरोध करते हैं . 


    मामले के सन्दर्भ में एससी /एसटी थाना मोतिहारी में कांड संख्या : 28/20 के तहत परथ्मिकी दर्ज की गैयी है . पुलिस मामले के प्रति सम्वेदनशील नहीं है . विपक्षियो द्वारा पुलिस को अपने मेल में कर के मामले को खत्म करने की साजिश की जारही है . 


     

  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: 25-03-2020
  • Date of Case Upload: 09-04-2020


Files

1) FIR 

Public insult and bit in Koppal District, and taluk, Guladalli Village.

    Case details is not available
  • Posted by: Human Rights Forum for Dalit Liberation-Karnataka
  • Fact finding date: 11-03-2020
  • Date of Case Upload: 08-04-2020

Public insult and bitten and Mass attack, Mysore district, K R Nagar Taluk, Saligrama Village.

    MYsore District, K R Nagar Taluk, Saligrama Town, Schedule caste Holiya community Belongs Chandru s/o Jagadesh were comming back from shop on 11-12-2019 around 8;30 at his bike. he was going on the same village Mahaveera Road whil he was going  on same road OBC Vokkaligagowda comminuty belongs Srinivash s/o late Karigowda was coming in his bike with his mother in lwa. since his mother in iwa Sheck the front wheel of his bike falls to a pit then both fall down.soon he gets up and comes to Chendru and scolds him that because of you we fall down and he scolds him in bad words and on community with srinivash his community belongs Ajay and other two of them scolds him and beats chandru. Chandru comes to village and informs to his yielders for that they say ok let us all sit and discuss about it and will decode what to do and on 12-12-2019 they went to police station to give complaint but they have not left us to give complaint instead of Srinivas had been given complaint on Chandru them. on 12-12-2019 sara, Veeresh brother of K R Nagar Legislator (MLA) Sa Ra Mahesh came to Dalits street 500 people of his commnity around 5;30 in the evening and havescolded Dalit community pepole in bad woeds and they scolded them you people have given complaint on us and community Verabharaiah s/o Bomaiah had kept bricks out of his house to repair his house they take all that bricks and have beaten all women\'s, children and have damaged dalit hous.


    on 21-12-2019 Dr. B R ambedkar youth society members have planned to rename of Mysore circle as Dr. B R ambedkar circle on constitution day on 26-12-2019 and have given requisition to all the government officers and have ordered to wright a name board with Ambedkar photo and on 25-11-2019 they have brought the board and have placed the board in the circle before one dya of inauguration and have gone back. next day they come and but in the same place board has been removed and in that same place former prime minister H D Devegowdas photohas been piaced by Vokkaliggowda cmmunity people and circle has been named as H D Devegowda circle. there was a clash between both the community on this matter on 11-12-2019 and the case has been filed at Saligrama police station on 12-12-2019not only this re ncomplaint has been filed on this incident the crime No;175/2019 IPC 1860 u/s 143, 147, 148, 427, 323, 324, 504, 506, 149 and Sc/St(poa)Amenment act-2015 u/s 3(1)(r), 3(1)(s) has been added and the re complaint crime No;173/2019 IPC 1860 u/s 504, 506, 304, 307 has been filed.

  • Posted by: Human Rights Forum for Dalit Liberation-Karnataka
  • Fact finding date: 14-12-2019
  • Date of Case Upload: 07-04-2020

Outraged of modesty of scheduled caste woman Mrs.Rani Santosh Khude

    The victim Mrs.Rani Santosh Khude. aged 26 yrs.occu.Labour, R/A Varkute tal.Indapur dist.Pune.was worked with Loni MIDC Company.The company provided traveling fascility from varkute to company destination.Bus pick up point was 2 km. away from her resident and she walked such distance every day.


     


            On 15/2/2019 at 1:30 pm., while she was going to pick up bus the accused Mr.Ashok Sarjerao Pawar aged 35 occu.Agriculture r/a varkute tal.Indapur dist.pune was following he r by his 4wheeler car no. MH 42 AH 4712 stepped the car before her and push her into the car and told her that he will baught A flat and mobile phone for her and further i like you and continuous try to touch her body then he threatened her if she disclose the same fact then he will kill her husband then the victim escaped herself from him and returned to home.meanwhile she quet the company job in April 2019.


             On 6/6/2019 at 5:00 pm.she was going to take grass  In  the field the other accused Ashok Gorak Shind came and caught her and forcefully touch her body and demand to do sexual act with him she refused to do so and she escaped and ran away to home .


           On 11/6/2019 at 4:30 pm. She was going to cutting grass in the field one other accusd Mr. Shahaji Bhimrao Shinde came to her and demand for sexual act again she escaped herself from him and returned to home.


             in this way all above mentioned accused persons are committed outrage of woman\'s modesty with her and threatened her. all these accused are belonging the upper class of category where as the victim belonging the SC category and they had been knowledge of the same and they intentionaly committed the said crime IPC u/s 354,323,504,506 r/w 34 and POA s. 3(2)(VA) and 3(1)(w)(i)(ii) and CRA 1955 s.7(1)(d) .

  • Posted by: NDMJ - Maharastra
  • Fact finding date: 23-06-2019
  • Date of Case Upload: 07-04-2020

Total Visitors : 2043631
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)
Website is Managed & Supported by Swadhikar