Total records:624

Gang Rape of Dalit Girl in Vinayagapuram, Villupuram

    Dalit girl named Meena (18), D/o Mr. Rajendran resident of Mariamman koil St, Vinayagapuram, Kothampakkam Panchayat of Villupuram District. She is belonged to the Scheduled Castes (Sub Caste: Hindu Paraiyar) and residing at her sister’s home for the past 15 years. She had completed 12th standard and is working in the Good Night company, Nallur, Villupuram District. She is working in the Good Night Company for the last 3 months.


    In this context, a man named Arul Jothi of Suramangalam village and belonged to the most backward caste (Vanniyar) was working in the same company had proposed to the girl, but the girl refused to accept his proposal. She had added that he belonged to other caste and she belonged to the Scheduled Caste. But in these few months, he used to call her and converse over phone about his love proposal. Two months ago, Arul Jothi left the job at the Good Night Company. On 19.06.2019 after completing her noon shift (i.e: 2 pm to 10 pm) she came out of the company at about 9: 45 pm.  Arul Jothi was standing at the entrance gate in his pulsar bike. He had told the girl that he would drop her in her home. The girl hesitated and told him that she will walk to her home (just 1 km from the company). But he had forced the girl to sit in his bike and took her. On their way, Arul Jothi had stopped near Pallacheri Nelli Thoppu; the girl told him that it is dark and she has to go home immediately. But he was conversing with the girl about his love proposal and told her that he would marry her. Meanwhile, three youths (names unknown and can be identified) came towards them and asked why they were standing there. They immediately attacked on her face and made the girl to put knee down on the floor. They had also pulled her hand and holded Arul Jothi’s hand. 


    Meena was brutally attacked by two accused persons and they tried to remove her upper cloth and she refused and ran away towards the railway track. But the two men chased behind her and caught hold her legs.  During this incident, she had sustained heinous injuries at her buttocks. They had brutally attacked her face, hands and finally called the 4th person to Pallacheri. Totally there are 5 accused persons, the two accused persons forcefully removed and threw her chudidhar pants and panties (Jatti) and raped the girl without her consent one by one. Meantime one of the accused told the other that he should take out his genitals and should not leave any serum in her vagina (sexual organ of the girl) which will lead to formation of the fetus. The other accused agreed to do the same. After the gang rape, she got unconscious and fainted to the ground. Arul Jothi along with the 3rd and 4th accused persons were standing nearby and looking whether anyone/any person are coming on the Nelli Thoppu Road.


    In the meantime, the girl’s sister Subashini got worried as Meena did not return home from work. Later she had called the Contractor Saravanan (person who helped Meena in getting job in the good night company) and she had asked for Arul Jothi’s mobile number. But his mobile number was not reachable and had tried to Arul Jothi’s brother Kalidoss. Finally around 11: 00 pm they got the location of Meena through Kalidoss. The contractor Saravanan along with the girl’s uncle Kumaran immediately went to Pallacheri Nelli Thoppu. Arul Jothi made the girl to wake up and helped her in wearing her pants. Saravanan and Kumaran reached the spot and brought her to the hospital. 


    The girl was admitted as in patient at Manakula Vinayagar Medical College Hospital, Mathakadipattu and was discharged forcefully by the medical officer on 20.06.2019 at 6 pm. Later she was admitted to the JIPMER hospital on the same day at 8:00 pm. The complaint was received by the Station Officer Kandamangalam and AWPS police. The FIR was registered with the Crime No: 288/2019 u/s 342, 323, 354 (a) 376 IPC r/w 511 and 4 of TWHA Act, 3(1)w(i), 3(2)(va) SC/ST PoA Amendment Act 2015

  • Posted by: Social Awareness Society for Youths
  • Fact finding date: 20-06-2019
  • Date of Case Upload: 24-06-2019


Files

1) FIR 

Dominant people beat the Dalit pair over the vote

    घटना दिनाक 14.05.2019 को घटित  हुई . उक्त तिथि को बिहार के पूर्विचम्पारण जिले के पिपरा थाना क्षेत्र के सागर  टोला बहसी निवासी अनसूचित जाति सदस्य सत्येन्द्र राम , पिता ललन राम अपनी पत्नी रानी देवी का इलाज कराकर गाँव लौट रहे थे . जब वे लोग अपने गाँव में ग्रामीण रामनरेश राय के मुर्गी फ़ार्म के निकट आये तो वहां पूर्व से ही ग्रामीण  1. अलोक कुमार 2. रवि भूषण कुमार 3. रामाधार यादव  4. रामनरेश प्रसाद यादव 5.विनोद कुमार 6. क्रिशन कुमार मुर्गी फ़ार्म के आस पास बैठे हुए थे l आलोक कुमार एवं रवि रंजन कुमार ने श्री राम एवं उनकी पत्नी रानी देवी को जाने से रोक दिया और पूछा की लोक सभा चुनाव में किसको वोट दिया है l दोनों ने बताया कि वे लोग भाजपा के प्रत्याशी को वोट दिया l इतना सुनते ही अलोक कुमार एवं रविरंजन कुमार उन लोगो को जाति सूचक गालियाँ देते हुए मार पीट करने लगा l देखते देखते सभी वहां पहुच गए और पति व् पति के साथ गाली गलौज एवं मार पिट करने लगे . ग्रामीणों द्वारा बीच बचाव कर मामला को शांत किया गया l 


    उक्त सन्दर्भ में पिपरा थाना में कांड सं० 140 / 19 के तहत प्राथमिकी दर्ज है l पर , एक भी अभियुक्त को गिरफतार नहीं किया गया है . पुलिस द्वारा मामले के प्रति उदासीनता वरती जा रही है .

  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: 09-06-2019
  • Date of Case Upload: 19-06-2019


Files

1) FF report 
2) FIR 
3) protest petition 

Dominant people have done obscene behave Dalit women beaten them

    घटना सूबे बिहार के पूर्वीचंपारण जिले के ढाका थाना क्षेत्र के सेमरा टोला करासहियाँ गाव की है l उक्त गावं पिछड़ी जाति (तुरहा) बहुल है l उनकी आर्थिक स्थिति भी बहुत अच्छी है जिसके चलते वहां उक्त विरादरी के लोगों का वर्चस्व कायम है l वही दूसरी और उक्त गावं में अनुसूचित जाति की तादाद तुरहा विरादरी के लोगों से बहुत कम है l इनकी आर्थिक दशा भी बेहतर नहीं है l विशेष रूप से अनुसूचित जाति में दुसाध बिरादरी के लोग बसे है l अधिकतर लोग मजदूर है l 


    दिनांक 08 .03.2019 को अनुसूचित जाति दुसाध बिरादरी के शैल देवी , पति - पुकार पासवान के बेटा की शादी थी l परम्परा के मुताबिक उनके घर , पड़ोस व् सग्गा संबंधी की महिलाए देवी देवताओ की पूजा के लिये गावं के ही देवताओ के स्थान पर जारही थी l इस क्रम में महिलाए गांजे बाजे के साथ नाचती गाती जा रही थी l इसी क्रम में तुरहा जाति के युवको ने महिलाओ के साथ छेड़ छाड़ की घटना को अंजाम दिया l महिलाओ ने जब विरोध किया तो गलत मज़मा बनाकर तुरहा जाति के भैरव साह, जलधारी साह ,रमेश साह , ज्ञानचंद साह ,चूमन साह , सूरज साह व् किशोरी साह सहित दर्जन से अधिक लोग महिलाओ से साथ मार पीट व् बदसलूकी करने लगे l पड़ोस के महिला दुखिया देवी , सियाराम पासवान आदि बीच बचाव करने गए तो उनके साथ भी मार पीट किया गया l दुखिया देवी का सर फाड़ दिया गया l सियाराम पासवान के घुटना में छोटे लगी l ग्रामीणों के पहुचने पर मामला शांत हुआ l 


    उक्त घटना के बाद तुरहा बिरादरी के लोगो द्वारा गावं से होकर बरात निकालने से रोक दिया गया l पुलिस के हस्तक्षेप के बाद बारात निकली गई l  उसी तिथि की संध्या अनुसूचित जाति के हरेन्द्र पासवान ,तुरहा जाति के tola के रास्ते आपने घर आ रहे थे तो तुराहा बिरादरी के लोगो ने बिना कसूर को उनके साथ भी जर्र्दस्त मारपीट की गई l श्री पासवान के नाक से ब्लड का रसाव होने लगा l उसने किसी प्रकार भाग कर अपनी जान बचाई l 


    उक्त मामले के सन्दर्भ में दिनांक 10. 03. 2019 को एससी / एसटी थाना मोतिहारी में प्राथमिकी दर्ज कराइ गई है l पुलिस ममाले के प्रति लापरवाही बारात रही है l 

  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: 25-04-2019
  • Date of Case Upload: 17-06-2019


Files

1) fact finding 
2) FIR 
3) FIR 

Attack on ex-dalit sarpanch for taking shelter in temple(Rammandir)

    Case details is not available
  • Posted by: Dalit Bahujan Shramik Union (DBSU - AP)
  • Fact finding date: Not recorded
  • Date of Case Upload: 17-06-2019

Images

   

Dominant people tried to kidnap of vikashmitra and looted his house

    घटना सूबे बिहार के पूर्वीचम्पारण जिले के रामगढ़वा थाना क्षेत्र के इनरवा गाँव की में घटित हुई थी l उक्त गाँव के अनुसूचित जाति सदस्य सुनील कुमार , पिता ध्रूपदेव राम एवं गाँव के मुखिया शिवचंद्र यादव के बीच वोट को लेकर कुछ दिनों से वैरत्व चल रहा है . बतातें है कि अनिल राम और उनके परिवार के लोग पंचायती राज चुनाव में मुखिया शिवचन्द्र यादव का विरोध किया गया था . मुखिया शिवचंद्र यादव चुनाव जितने के बाद से ही श्री राम से बदला लेने की ताक था . श्री यादव द्वारा पूर्व प्लानिंग के तहत दिनांक 20.04.2019 की रात्रि करीब 9.00 बजे हरवे हथियार से लैश होकर करीब 30 - 35 लोग श्री राम के घर पर चढ़ाई कर दिया . श्री राम को जाति सूचक गालियाँ दी . उनके घर लूट पाट किया . पीड़ित श्री राम के माता जी के साथ अभद्र व्यावहार किया तथा श्री राम की हत्या करने की नियत से उनका अपहरण करने की कोशिश की गई . आस पास के गरमीं नहीं घटना स्थल पर नहीं पहुचें होते तो खून खरा होने से रोका नहीं जा सकता था .पर विडम्बना तो यह है कि मुखिया श्री यादव द्वारा उक्त मामले को अंजाम भी दिया गया और उलटे पीड़ित परिवार के खिलाफ ही रामागढ़ावा थाना में प्राथमिकी दर्ज करा दी गई . काफी जदोजेहद करने पर श्री राम की प्राथमिकी बाद में दर्ज की गई . घटना का तत्कालीन कारन सड़क का भूमि बिवाद बताया गया . कहते है कि मुखिया श्री यादव द्वारा जबरन यह आरोप लगाया जा रहा है कि पीड़ित सड़क की जमीं हड़प कर घर बना लिया है . पर हकीकत ऐसा नहीं है , पीड़ित के घर के पासा 16 फिट से भी ज्यादा सड़क की चौड़ाई है . किसी भी बहाने मुखिया श्री यादव वोट के रंजिश का बदला चुकाना चाहता है .

  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: 22-04-2019
  • Date of Case Upload: 17-06-2019


Files

1) case Brief 
2) FIR 
3) application commissioner 
4) DGP 
5) DIG 
6) DM app 
7) IG muz 
8) IG weake sec 
9) ncsc 
10) NHRC appli 
11) SP appli 
12) H.Sec 
13) DSP appli 
14) public petition 
Total Visitors : 1653475
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)
Website is Managed & Supported by Swadhikar