Total records:1156

Dominant People have bitten ,abuses by caste name and misbehave with Dalits

    Case details is not available
  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: 05-07-2022
  • Date of Case Upload: 19-10-2022

Fact Finding Report on Rape of a Tribal Minor girl Srimati Chattar of Village -Uchhupada, PS- tangi, Dist- Cuttack

    Case details is not available
  • Posted by: Ambedkar Lohia Vichar Manch
  • Fact finding date: 13-12-2021
  • Date of Case Upload: 17-10-2022

Fact Finding Report on gang rape of Jharana soren of Bahia Baradananda, Anandpur, Kendujhar, Odisha

    Case details is not available
  • Posted by: Ambedkar Lohia Vichar Manch
  • Fact finding date: 30-07-2022
  • Date of Case Upload: 16-10-2022

Forest Department shot tribal on World indigenous Day

    पूरी दुनिया में 9 अगस्त विश्व मूलनिवासी दिवस मना रहा था उसी रात मप्र के विदिशा जिले की लटेरी तहसील के खट्टेपुरा गांव के जंगल में वन विभाग ने जंगल से लकड़ी ला रहे आदिवासियों पर गोलियां चला दी। जिसमें एक आदिवासी युवक चैन सिंह पिता सिरदार सिंह भील की मौके पर मौत हो गई वहीं 6 आदिवासी गोली लगने से घायल हुए। 


    पीड़ितों के मुताबिक, घर में जरुरत के लिये गांव के कुछ साथी मोटरसायकल से नौ अगस्त 2022 को जंगल में लकड़ी लाने गये थे, लौटते समय बारिश की वजह से रात हो गई थी।  रात लगभग 10 बजे खट्टेपुरा गांव में जंगल से बाहर निकलते समय सामने से वन विभाग की दो जिप्सियां में सवार 15-16 हथियार बंद गार्ड ने घेर लिया और बिना कोई बात किये फायरिंग कर दी। पहली बाईक पर महेंद्र पिता सिरदार सिंह बैठा था और उसका बड़ा भाई चैनसिंह भील बाइक चला रहा था। लगभग 10 मीटर दूर सामने से गोली मारी तो चैन सिंह वहीं गिर गया, महेंद्र को भी पीठ पर गोली लगी तो वह वहीं गिर कर बेहोश हो गया। वन विभाग ने कई राउंड फायर किये जिसमें 7-8 आदिवासी घायल हुए और बाकी के भाग गये। इसके बाद वन विभाग की टीम मृतक और घायलों को वहीं छोड़ कर चली गई। गांव वालों की मदद से  घायलों को लटेरी के सरकारी अस्पताल लाया गया। जहां से गंभीर घायलों को विदिशा जिला चिकित्सालय रेफर किया गया, और इलाज के लिये भोपाल के हमीदिया  अस्पताल पहुंचाया गया। 


    घटना के सुर्खियों में आने पर दूसरे दिन सरकार द्वारा मृतक चैन सिंह के परिवार को 25 लाख रु. का चैक और चार घायलों को 5-5 लाख रुपये के चेक दिये गये।


    वर्तमान में महेंद्र जो गंभीर रुप से घायल हो गया था उसकी रीढ़ से छर्रा निकाल  दिया गया है लेकिन शरीर के बाकी हिस्सों में अभी भी छर्रे धंसे हेैं। बिना सहारे के वह उठ बैठ और चल नहीं सकता है,  वहीं घायल भगवान सिंह भील के पैरों में छर्रे लगने की वजह से उसका भी चलना फिरना बंद है। सरकारी अस्पताल से उन्हे कोई सुविधा नहीं मिल रही है। प्रायवेट से दवाइयां खरीदनी पड़ रही है। 


    घटना का विशेष पहलु यह भी है केि एक आदिवासी की मौत और छह आदिवासियों के घायल होने पर मामले को दबाने के लिये एक अनु.जाति के वनकर्मी को आरोपी बना कर  केस एफआईआर में अनु.जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम की धारा नहीं लगाई गई, वहीं वन विभाग द्वारा विदिशा जिले में काउंटर केस दर्ज कराया गया है।

  • Posted by: NDMJ
  • Fact finding date: 28-09-2022
  • Date of Case Upload: 06-10-2022

Images

                 

Indecent act with minor tribal girl

    चम्पा तालाब निवासी रेखा मोरे पति मोहन मोरे अपनी बेटी और बेटे के साथ रहती है। सामने के घर में अनिल मिश्रा का आना जाना है, अक्सर वह उसी घर में रहता है। अनिल मिश्रा की बुरी नियत 16 वर्षीय रेखा की बेटी नंदिनी पर काफी समय से थी। वह अक्सर रास्ते में आते जाते उसे छेड़ना, कमेंट्स करता रहता था। दिनांक 8 सितंबर 2022 को शाम 8.30 बजे के लगभग नंदिनी अपनी मां और उनकी सहेली के साथ गणेश जी की झांकीयां देखने के लिये घर सेे निकलने लगे । नंदिनी की मम्मी स्कूटी निकालने लगी तभी नंदिनी को देखकर अऩिल मिश्रा ने अपनी पेंट की जिप खोल - बंद करने लगा और प्राइवेट पार्ट पर हाथ लगा कर गंदे गंदे इशारे करने लगा. जिसके बारे में नंदिनी ने चेतना को बताई। अनिल मिश्रा की गंदी हरकतें मम्मी नहीं देख पाई थी। मम्मी को बाद में बताया, लेकिन बदनामी की वजह से किसी को नहीं बताई और ना शिकायत की। 


    फिर एक दिन नंदिनी मोरे स्कूल से घर लौट रही थी तो गली में  अनिल मिश्रा  जानबूझकर कर टकराया, जिसके बाद वह डर के मारे घर से नहीं निकली, मां रेखा मोरे को घर लौटने पर सब बात बताई। जिस पर रेखा मोरे ने अनिल मिश्रा को अपनी बेटी से छेड़ छाड़ करने से मना किया तो वह धमकी देने लगा, जिसके बाद नंदिनी और उसकी मां ने अजाक थाना पहुंच कर रिपोर्ट दर्ज कराई।

  • Posted by: NDMJ
  • Fact finding date: 18-09-2022
  • Date of Case Upload: 30-09-2022

Images

               
Total Visitors : 3646412
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)
Website is Managed & Supported by Swadhikar