Obscenity with a Minor Girl by a teacher in a classroom (Code: UP-AZM-21, Date: 15-Apr-2015 )

Back to search

Case Title

Case primary details

Case posted by NDMJ-UP
Case code UP-AZM-21
Case year 15-Apr-2015
Type of atrocity Uses words, acts or gestures of a sexual nature towards a woman
Whether the case is being followed in the court or not? No

Fact Finding

Fact finding date

Fact finding date Not recorded

Case Incident

Case Incident details

Case incident date 15-Apr-2015
Place Village: Not recorded
Taluka:Not recorded
District: AZAMGARH
State: Uttar Pradesh
Police station Not recorded
Complaint date 31-Dec-1969
FIR date 31-Dec-1969

Case brief

Case summary

घटना दिनांक - १५मार्च२०१५कीहै, ग्रामपंचायत - आराजीनौबरारकरखियाकिताप्रथम (निबियहवा ), थाना -रौनापार , तहसील -हरैया , जिला - आजमगढ़कीहै , पीड़ितबच्चियांक्लासवीऔरवीकीहैं , पीड़ितोंकीआयु - १२व्१३सालकीहै . घटनाकेदिनपीड़ितविद्यार्थीअपनेक्लासमेंथीं . स्कूलकीपरीक्षाचलरहीथी . अध्यापकअनुरागरॉय (सामान्यजाती ), उम्र - ३०वर्ष , निवासी - आजमगढ़ , अपनेजूतेपरकुछलड़कियोंकेनामजैसे सविता (नाम चेंज्ड) एवं उल्लिखित विद्यार्थियों के नाम लिख रखा था . और उन्हें दिखा रहा था .यहदेखकरपीड़ितविद्यार्थियोंमेंसेएक सविता क्लाससेबाहरनिकलनेलगीतबदरवाजेकेपासवहअध्यापकखड़ाहोगयाऔरउसेरोकनेलगाइसकेबावजूदजबवहनहींरुकीतोउसकाबालपकड़करखींचदियाऔरपीड़िताकेपैरमेंपैरफंसाकरउसेजमीनपरगिरादिया, आरोपीअध्यापककोशकहोगयाकीविद्यार्थीअपनेघरजाकरपरिवारवालोंसेबताएगी . इसीलियेपीड़ितकोरोकनेकेनामपरउसकेसाथबदतमीजीकिया .

जबपीड़िताकिसीतरहबाहरनिकलकरघरपहुंचीतोघरवालोंकोअध्यापकद्वाराकियेगएवर्तावकेबारेमेंबताया . इसकेबादपीड़ितकेपरिवारऔरगावकेलोगविद्यालयपहुंचगएविरोधकीआसंकाकेदरसेआरोपीशिक्षकविद्यालयसेफरारहोगया .गाववालोंनेइसघटनाकाविरोधजताया .

घटनाकीखबरपाकरस्थानीयकछमीडियाकेसाथीघटनास्थलपरपहुंचगए , लेकिनविद्यालयद्वाराइसघटनाकोमीडियामेंनहींप्रकाशितकरनेकेएवजमेंमोटीरकमदियागयाघूसकेतौरपर, (यहजानकारीउसीविद्यालयकेसहायकअध्यापक - अजयकुमारसिंहनेफैक्टफाइंडिंगटीमकोबताया ) जिसकेकारणघटनामीडियामेंप्रकाशितनहींहोपायीऔरनाहीपुलिसकोसूचनादीगयी . परिवारवालोनेलोकलाजकीदरसेमामलेकोदबानाहीबेहतरसमझा .

तथ्यान्वेषणटीमकोस्थानीयदलितमानवअधिकारकार्यकर्ताकुसुमजीद्वाराघटनाकेबारेमेंजानकारीदीगयी , उसकेबादटीमनेघटनाकातथ्यान्वेषणकिया . टीमनेपीडितोकेपरिवारकेलोगो , अध्यापको , गाववालो , पुलिससेमिलकरघटनाकेबारेमेंजानकारीप्राप्तकी .

जानकारीप्राप्करनेकेदौरानयहभीतथ्यप्राप्हुएकीइसविद्यालयमेंइसकेपहलेभीकईबारअश्लीलहरकतेअध्यापकोद्वाराकीगयीथी . अध्यापकोद्वाराकंप्यूटरकेमाध्यमसेअश्लीलचित्रदिखायाजाताहै , विद्यार्थियोंकोउनकेकंधेपरहाथरखना , बालोकोसहलाना ,गालोकोसहलाना ,पीठपरहाथफेरनाआदितरहकीहरकतेअध्यापकोद्वाराकईबारकियेजातेरहे , इज्जतकीबदनामीकीवजहसेबच्चियांकिसीसेजिक्रनहींकरतीथी . इसीकाफ़ायदाउठाकरअध्यापकोकीहरकतीभीबढ़तीजातीथी . तथ्यमेंयहभीसामनेआयाकीअन्यअध्यापकराकेशकुमारपटेलएवंनिलकुमारभीइसकेपूर्वमेंकंप्यूटरमेंअश्लीलचित्रोकेमाध्यमसेबच्चियोंकोशर्मिंदाकरतेरहेहै . अध्यापकअनुरागरॉयतोहदहीकरताथा . उनकेसाथअक्सरछेड़छाड़करताथा . विरोधनहींकरनेकेकारणआरोपियोंकाहौसलाऔरभीबढ़गयाथा . गाववालोकोप्रेरितकरनेकेबावजूदउनकेखिलाफकानूनीकारवाहीकेलिएकोईआगेआनानहींचाहताहै .

यहपरिषदीयविद्यालयक्लास - वीतकसंचालितहै . इसविद्यालयमें१३३बालिकाऔर८०बालकहै . जिसमे७५ % बालिकाएऔर२५ % बालकपढ़तेहै . ५० % अनुसूचितजाति, ४०% यादवऔर१० % मौर्यजातियोंकेबच्चेपढ़तेहै . इसविद्यालयमेंअध्यापकहै . विद्यालयकेहेडमास्टरजीतेन्द्रकुमार (अनुसूचितजाति) है . इसतरहअश्लीलताकीशिकार१५बच्चियांहैजिनकेनामक्रमशः - सविता कुमारी (नाम चेंज्ड) पुत्री वीरेंदर कुमार , पूजा कुमारी (नाम चेंज्ड), कुसुम कुमारी (नाम चेंज्ड) पुत्री लुल्लू , कविता कुमारी (नाम चेंज्ड), रेखा (नाम चेंज्ड), तनूजा कुमारी (नाम चेंज्ड), काजल कुमारी (नाम चेंज्ड), रीना (नाम चेंज्ड),(पिछड़ी एवं अनुसूचित जाति) आदि है .

Total Visitors : 1189348
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)