Total records:1316

Forced labour from Dalit women at District Dausa

    Pooja, Urmila, Prem Devi, Beena and other Dalit women are Daily wages labour. On 26-03-15, when they were on the way to their work then accused Lodro Ram, Khem Raj and 3-4 others from Gurjar community came to the victims and asked to go their field for labour work. When they refused their offer they became violent and  tried to bring them forcible. Accused beaten the women  with sticks and abused them with caste based words.  

  • Posted by: Centre for Dalit Rights
  • Fact finding date: 08-04-2015
  • Date of Case Upload: 14-09-2015

Dalit Kandhasamy Brutally Attacked by Caste Hindus

    Kandhasamy S/o Raman belongs to Dalit community, reside at Selvapuram, Avinasi Taluk of Tiruppur District of Tamil Nadu State. On 31.05.2015 he went to his sister house. While he is returning to home. He went to urination on road side. While he urinating cow was coming to road side. Since he tried to catch an tied cow on tree. While five caste Hindus were attacked him and caste abused him. He was got serious injuries and he admitted in hospital. He lodged complaint in police station. Case was filed under SC/ST PoA Act. 

  • Posted by: Social Awareness Society for Youths-SASY
  • Fact finding date: 07-09-2015
  • Date of Case Upload: 10-09-2015

Dalit Arumugasamy Brutally Attacked by Caste Hindus

    Arusamy (33) S/o Kuppusamy belongs to Dalit community, reside at Arijana colony, Sempatha palayam, Sathumugai post, Sathiyamangalam Taluk, Erode District of Tamil Nadu.  Now he is staying at sathiyamanglam for temporally.  He working as a daily laborer in local place and he was affected by some ear problem of slow hearing. On 25.05.2015. He went to his relative death funeral at sempathampalayam, he was sleeping at the night on street side. Meanwhile caste hindu Meesai kumar @ sivakumar and his son vijayakumar crossing the way. They were caste abused and brutally attacked how dalit dog can sleep in front of my house. He got serious injuries on his body. He was lodged complaint at Sathiyamangalam police station and he was admitted in sathiyamanglam government hospital for treatment. One accused only arrested and he got bailed. Now dalits were forced to withdraw the case because dalits were build the temple in village. If they were invited caste hindu gounder for celebration they are asking to if withdraw the case only we will come otherwise we can not come to festival. So dalit were force Arusamy to withdraw the case. 

  • Posted by: Social Awareness Society for Youths-SASY
  • Fact finding date: 25-08-2015
  • Date of Case Upload: 09-09-2015

17 Year old girl forced by the Hostel warden to get involved in a sexual activity, Khandwa MP

    दीपा संपाल पिता शांता राम संपाल उम्र 17 वर्ष  कक्षा 12वीं, स्कूल कन्या शाला पुनासा जिला खंडना मध्यप्रदेश में अध्ययनरत तथा कन्या छात्रावास पुनासा में रह रही थी। दीपा के माता पिता का देहांत हो चुका है और वह नानी के आश्रित है जो कि ओमकारेश्व र में रहती है। अनाथ होने का फायदा उठाने के चक्कर में छात्रावास की वार्डन रिजवाना आये दिन उसे अय्युब नाम के युवक के साथ जाने और संबंध बनाने के लिए दबाव दे रही थी। दीपा तीन वर्ष से छात्रावास में रह कर पढाई कर रही थी जो आये दिन वार्डन रिजवाना के दबावों से परेशान हो गई थी। रिजवाना युवक अय्यूब खान से दीपा के नाम पर तरह तरह के गिफ्ट लेती थी और उसे दीपा सौंपने का लालच देती थी। कई बार रिजवाना ने दीपा को अय्युब के साथ उसे बाहर भेजा। विरोध करने पर दीपा को परेशान करती थी। दिनांक 7अगस्त को रिजवाना ने दीपा को एक लिखित आवेदन दिया जो स्कूल की प्रिंसिपल को देने का कहा, उस आवेदन में गीता को टीसी देने को कहा गया था। जिस पर दीपा ने तनाव में आकर साइन कर टीसी ले ली। और साहस दिखाते हुए जिला कलेक्टर, थाना में शिकायत करने पहुंच गई। दीपा की शिकायत पर संग्यान लेते हुए जिला कलेक्टर और अजाक पुलिस ने रिजवाना और अय्युब को 14 अगस्त को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।


    फिलहाल रिजवाना और अय्युब जमानत पर रिहा हो चुके हैं वहीं दीपा की पढ़ाई छूट चुकी है, वह ओमकारेश्वर में अपनी नानी के पास रह रही है। ओमकारेश्वर के स्कूल उसे एडमिशन नहीं दे रहे हैं।
  • Posted by: NDMJ
  • Fact finding date: 17-09-2015
  • Date of Case Upload: 07-09-2015


Files

1) news paper cutting 
2) Complain latter 1 
3) complain latter 2 
4) FIR Copy 1 
5) FIR Copy 2 
6) news paper cutting 

Adivasi women Gang Rape Burhanpur, MP


    बुरहानपुर। इंदौर-इच्छापुर राजमार्ग पर शाहपुर फाटे के पास एक खेत में बने मजदूर के घर में देर रात करीब 12.30 बजे चार अज्ञात नकाबपोश बदमाश खिड़की तोड़कर घुसे। इसके बाद नकाबपोश आरोपियों ने मजदूर के साथ मारपीट की और उसके हाथ-पैर बांध दिए और उसकी पत्नी से सभी आरोपियों ने बारी-बारी से सामूहिक दुष्कर्म किया। यह पूरा घटनाक्रम करीब 2 घंटे तक चलता रहा। इसके बाद आरोपी उसके घर से चांदी के आभूषण छिनकर भाग गए।


    गुस्र्वार दोपहर को थाने पर पहुंचे मामले के बाद पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।


    पुलिस के अनुसार खेत के मालिक हरिओम अग्रवाल ने बताया कि उन्होंने अपने खेत में चौकीदार के परिवार के लिए एक कमरा बना रखा है। इसमें मजदूर गजानंद अपनी पत्नी और 3 बच्चों के साथ रहता है। गजानंद ने बताया कि बुधवार रात करीब 12.30 बजे जब परिवार के सभी सदस्य सो रहे थे तब अचानक दरवाजा खटखटाने की आवाज आई। दरवाजा नहीं खोलने पर खिड़की तोड़कर चार अज्ञात बदमाश बंदर टोपी पहने हुए घर के भीतर घुसे।


    बदमाशों ने मजदूर के साथ मारपीट की और उसके हाथ-पैर रस्सी से बांध दिए। इसके बाद महिला से सामूहिक दुष्कर्म किया। इससे पहले बदमाशों ने मजदूर का मोबाइल फोन भी बाहर फेंक दिया। जिससे वह किसी से संपर्क न कर सके। करीब दो घंटे तक चले इस घटनाक्रम के बाद बदमाश रात को करीब 2.30 बजे बाहर से दरवाजे की कड़ी लगाकर भाग निकले। पीड़िता और उसका मजदूर पति किसी भी बदमाश का चेहरा नहीं देख पाया। आरोपियों के जाने के बाद बमुश्किल पीड़िता ने पति के हाथ पैर खोले और पति गजानंद ने खिड़की से निकल कर बाहर से बंद दरवाजे की कड़ी खोली।


    12 घंटे बाद थाने पहुंचा परिवार


    इस मामले की शिकायत दोपहर करीब 1 बजे शिकारपुरा थाने में दर्ज कराने पीड़िता अपने पति और खेत मालिक के साथ पहुंची। शिकारपुरा टीआई प्रदीप वॉल्टर ने पूरा मामला समझने के बाद महिला अधिकारी से पीड़िता के बयान दर्ज कराए। इसके बाद महिला को मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। पुलिस इतने गंभीर मामले में इतनी देर से शिकायत करने को लेकर मामले को संशय की नजर से देख रही है। हालांकि मामला दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी गई है लेकिन महिला और उसके पति द्वारा जो कहानी बताई जा रही है उसमें पुलिस को कई किन्तु-परंतु नजर आ रहे हैं। थाना प्रभारी श्री वॉल्टर इस मामले की विवेचना कर रहे हैं।


    इस तरह के गंभीर मामले को लेकर इतने समय के बाद थाने आकर शिकायत करना समझ से परे है। राजमार्ग पर रात भर ट्रैेफिक होता है। इसके बावजूद शिकायत अगले दिन दोपहर में की गई है। इसको लेकर कुछ संशय जरूर है। पुलिस ने कायमी कर पीड़िता का मेडिकल करा लिया है। जांच की जा रही है। पुलिस आरोपियों की खोजबीन में जुटी है।


    प्रदीप वॉल्टर, टीआई शिकारपुरा


     


     


     

     

    - See more at: http://naidunia.jagran.com/madhya-pradesh/burhanpur-farm-workers-in-front-of-the-gang-rape-of-wife-466026#sthash.HjYaZEzJ.dpuf

  • Posted by: NDMJ
  • Fact finding date: Not recorded
  • Date of Case Upload: 07-09-2015

Total Visitors : 6847389
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)
Website is Managed & Supported by Swadhikar