Total records:1316

Attack and Caste Abuse on Dalit Mahila

    On dated : 14-07-2014, approx 9:45 A.M, Victim Ramrati W/O Late Sh. RamChandr Caste Valmiki, was doing sweeping at near Baba sahab statue at Mini Sectriate Panipat. yet accused Kamal caste Gujjar past away near her due to flow air some dust was fall on his pent. accused got angry and slapped to victim and abused on cast line: Chudi, Dedni, Chamari in the public place. vicitm given compliant to police, but DSP cancel the complaint on false evidence. now after re-appeal of victim FIR lordge on dated 10.03.2015.  

  • Posted by: NDMJ-Haryana
  • Fact finding date: 19-01-2015
  • Date of Case Upload: 18-03-2015

Gang rape with Dalit Women Sarpanch

    घटना दिनांक - 18 अक्तूबर २०१४ की है , जब पीडिता अपने खेत में चारा काटने के लिए गई हुई थी . उस समय गांव के ही दबंग अकबर पुत्र अख्तर , ऋषि कुमार पुत्र राजेश्वर प्रसाद शर्मा , नरेश पुत्र प्रकाश चंद एवं एक अज्ञात जो आम के बगीचे में चुप कर बैठे थे , दौड़कर आये और पीडिता को दबोच लिया  तथा  चाकू की नोक  पीडिता के गर्दन पर रखकर सभी आरोपियों ने बारी -बारी  से सामूहिक  दुष्कर्म किया और भागते समय पीडिता को धमकी देते हुए कहा कि  अगर किसी को बताया या पुलिस के पास जाने की हिम्मत किया तो जान से मार देंगे और गन्दी -गन्दी गलियां दी .

  • Posted by: NDMJ-UP
  • Fact finding date: 24-11-2014
  • Date of Case Upload: 18-03-2015

Dalit Men Killed by Dominant Caste in Neavynagar

    Case details is not available
  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: 07-12-2014
  • Date of Case Upload: 18-03-2015

दलित युवा के दुकान में घुस कर मारपीट और पैसे छीन लेना

    दिनांक - 20 – 5 – 2015 को दिन बुधवार समय लगभग 11 बजे दिन में पीड़ित की दुकान पर कुछ महिला कस्टमर बैठी थी। तभी दुकान पर बीरू पुत्र बाबूनन्दन उपध्याय व प्रमोद पुत्र रमेश चन्द तिवारी इसी गाँव के निवासी है पहुँचे और बोले कुर्सी दो । कुर्सी पर महिलाए बैठी थी । के डर से एक महिला ने कुर्सी दे दी थोड़ी देर मे दूसरी महिला भी उठ गई । दोनो बैठ गये और फोन पर गाली दे दे कर बात करने लगे। पीड़ित राम चन्दर ने विरोध किया कहा  महिलाए बैठी है  थोड़ा बगल में जा कर बात करो । इस बात पर बीरू पुत्र बाबूनन्दन उपध्याय गाली देन कर कहा कि चमार साले चमर कुट्टी तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई । गाली बकते  हुए वे दुकान में धुस कर लात घुसो से मारने लगा । वहाँ पर बैठी महिलाए बीच बचाव कर रही है, लेकिन माने नही। पीड़ित  जमीन पर गिर गया। इतने में प्रमोद तिवारी गाली देते हुए दुकान के अन्दर घुस कर पीड़ित को घसीटते हुए बाहर लाकर  लात घुसे से मारने लगा । शोर शराबा सुनकर लोग भी इक्कठा हो गये उन्होने पीडित कों मार खाने बचाया और छुड़ाये। अभियुक्त बीरू पुत्र बाबूनन्दन चिल्ला चिल्लाकर कह रहा था कि मेरी पहुँच उपर तक है, अगर हमारे खिलाफ कोई कार्यवाही करोगे तो, चमार साले तुम्हे जिन्दा नही छोडेगे। तुम्हारी भलाई इसी में है कि तुम दुकान बन्द करके यहा से भाग जाओ, नही तो जान से मार दुगा। पीड़ित डर के मारे दुकान बन्द करके चला गया। पीड़ित की रीड कि हडडी में काफी चोट आयी है।


    पीड़ित का बयान-
























    1



    नाम



    उम्र



    लिंग



     पिता/पित



     जाति



               पता



    1



    रामचन्दर



    35



    पुरूष



    स्व. मनराज



    चमार



    ग्राम धिरौली पो. सुल्तानपुर घुघुरी – थाना- खुटहन, जिला- जौनपुर


     



     


    मेरे घर से मेरी दुकान की दुरी 5 कि. मी दक्षिण दिशा में है। ग्राम- फतेगढ़ उपध्याय पुर मोड़ पर है।  मै घर से  9 बजे दुकान पर आ गये। दुकान खुली थी हमारे दुकान में महिला कस्टमर बैठी थी इतने में बीरू पुत्र बाबूनन्दन उपध्याय व प्रमोद पुत्र रमेश चन्द तिवारी आये ये लोग दबंग व समान्ती किस्म के लोग है इनका काम मारना पीटना, लोगो को हड़काना छिनैती करना है। कुर्सी मांगने लगे इनके गुस्सा को देख कर एक महिला डर के मारे कुर्सी दे दी, बैठ गए बैठकर गाली दे दे कर बात करने लगे । हमने कहा कि यहाँ पर महिलाए बैठी है आप लोग बगल में बात कर लिजिए। मेरे यह कहने पर बीरू पुत्र बाबूनन्दन उपध्याय गाली देते हुए कहा कि चमार साले चमर कुट्टी तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई । यह  कहते हुए दुकान में धुसा और लात घुसो से मारने लगा । वहाँ  बैठी महिलाए बीच बचाव कर रही है लेकिन मान नही रहा है।  मै अचेत हो कर जमीन पर गिर गया । थोड़ी देर में मुझे जब होश आई  प्रमोद तिवारी गाली देते हुए दुकान के अन्दर घुस कर मुझे घसीटते हुए बाहर लाकर  फिर लात घुसो से  मारने लगे । शोर सराबा सुनकर और लोग भी इक्कठा हो गये, छोड़ाये।  बीरू पुत्र बाबूनन्दन चिल्ला चिल्लाकर कह रहा था कि मेरी पहुँच उपर तक है अगर हमारे खिलाफ कोई कार्यवाही करोगे तो चमार साले तुम्हे जिन्दा नही छोडेगे। तुम्हारी भलाई इसी में है कि तुम दुकान बन्द करके यहाँ से भाग जाओ नही तो जान से मार दूंगा। मै डर के मारे दुकान बन्द करके घर चला गया। मै मार्केट के लिए बीस हजार रूपया काउन्टर में रखा था वो पैसे छीन लिए।  मेरे रीड कि हडडी में काफी चोट आयी है।


    दिनांक 21- 5 – 2015 को मै खुटहन थाने में अपलीकेशन दिया और मेडिकल की माग की एसओ ने अपलीकेसन  लेने में हिला हवाली कर रहा था किसी तरह से लिया तो देखा और कहा कि तुमने तो सब लिख दिया, कुछ नही छोड़ा है। अपलीकेशन को दुसरा लिखो साधारण तरिके से लिखो । तीन बार अपलीकेशन बदलवाया और लिखवाया । बोला ये निकाल दो वो निकाल दो । कहाँ कि जाओ कल आना मेडिकल करवा देगें। दुसरे दिन मै थाने पर गया एसओ नही थे। मै एसओ से फोन पर बात किया तो बोले मै मिटिगं मे हूँ कल आना । आज कल कहकर थाना में हप्तो दौड़ाये न मेडिकल हुआ न कोई कार्यवाही। और मुझे बार बार जान से मारने की   धमकी दे रहे थे। स्थानीय संगठन के सहयोग से हमने एसपी व डीएम को अपलीकेशन दिया काफी दबाव के बाद दिनांक – 3 – 5 – 2015 को F IR दर्ज किये धारा 323, 452, 504, 506  3(1)10 S C/ S T एक्ट केश दर्ज हुआ। अभियुक्त की गिरप्तारी नही हुई ।


    अभियुक्त पीड़ित परिवार के घर जाकर धमकी दे रहे है कि केश उठा लो नही तो जान से मार देगे खुद जा रहे है और दुसरे लोगो को भेज रहे है। और मुह बाँध कर जाते है। पीड़ित परिवार को कोई सुरक्षा नही मिल रही है। पूरा परिवार इनके धमकी से भयभीत है । कही कोई दुसरी घटना न कर दे।


    अभियुक्त पक्ष-

































    1



    नाम



    उम्र



    लिंग



    पिता/पति



    जाति



    पता



    1



    बीरू



    30



    पुरूष



    बाबून्दन



    उपध्याय



    ग्राम-फतेगढ़ पो. पट्टीनारेन्द्रपुर थाना- खुटहन, जिला जौनपुर



    2



    प्रमोद



    40



    पुरूष



    रमेश चन्द



    तिवारी



    ग्राम-फतेगढ़ पो. पट्टीनारेन्द्रपुर थाना- खुटहन, जिला जौनपुर



      


     


     

  • Posted by: Dynamic Action Group
  • Fact finding date: 22-05-2015
  • Date of Case Upload: 18-03-2015

Images

     

Brutal murder of a Dalit youth on festival of Holi in Alwar District

    On the day of Holi festival, Deceased subhash consumed alcohal with accused subash, ashok, chetram and others from gurjar community who are meant to be friend of him. When, He lost his consciousness accused murdered him and threw the near by Jungle.  

  • Posted by: Centre for Dalit Rights
  • Fact finding date: 22-03-2015
  • Date of Case Upload: 18-03-2015

Total Visitors : 6847336
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)
Website is Managed & Supported by Swadhikar