Total records:1318

previous123456789...263264next

जान से मारने हेतु हमला कर मारपीट व जाति सूचक गाली गलोच at Bathu

                                यह घटना जिला ऊना की तहसील हरोली के गांव बाथू की है यह गांव जिला मुख्यालय से 30 कि०मी० की दुरी पर है राज्य हिमाचल में जातिय व्यवस्था पर आधारित छुआछूत की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है भारत को आज़ाद हुए 70 वर्ष के करीब हो गए है पर ऐसी घटिया मानसिकता रखने वाले लोग आज भी समाज में मौजूद है. इस गांव में दलित समाज से लखवीर लाल स्पुत्र रूप लाल रहता है. जिसकी उम्र 36 वर्ष की है. वह शादी शुदा है लखवीर लाल चमार जाति से सम्बंधित है. वह घर में ही रह कर अपनी बनाई गई पीर बाबा की दरगाह में साद संगत की सेवा करता है इस दरगाह के गद्दी नशीनं लखवीर के पिता जी है. उसके गांव का पता :- गांव व डाकघर बाथू, तह० हरोली, जिला ऊना हि०प्र० है.


          इनकी दरगाह में गांव बाथडी से संगत के रूप में गुरमीत सिंह स्पुत्र दलीप सिंह जाति तरखान अपने परिवार सहित सजदा करने आता है. जिसकी एक बेटी है उसका नाम कंचन उम्र 23 वर्ष है. कंचन ने अपने परिवार की इच्छा के विरुध गुरपलाह के रमन सैनी स्पुत्र स्व: कश्मीर सिंह से जबरन शादी कर ली शादी करने से पहले कंचन को उसके पिता गुरमीत सिंह ने काफी समझाया की व वहाँ शादी ना करे लड़का उनकी मर्जी का ना है इसी के चलते गुरमीत सिंह धार्मिक आस्था के चलते कंचन को दरगाह में लेकर आया वहाँ पर दरगाह के गद्दी नशींन होने कारण लखवीर के पिता जी ने व दरगाह के सेवादार राकेश कुमार उर्फ़ बिल्ला गांव बाथडी ने काफी समझाया पर कंचन ने किसी की भी ना सुनी और अपने परिवार के विरुध जाकर रमण सैनी से ही 23 फरवरी 2024 को शादी कर ली जिसके चलते कंचन को उसके परिवार ने वेदखल कर दिया और अपनी जिंदगी में खुश रहने को बोल दिया.


        दिनाक 27 फरवरी 2024 को लखवीर लाल को एक बाहर (इंटरनेशनल) के अज्ञात नंबर से फोन आया और धमकी भरा मेसज आया की तेरी और तेरे बाप की टांग तोड़नी है उसके बाद उसको कई फोन आये और जान से मारने की धमकी दी जिसकी लखवीर ने 1100 नंबर पर शिकायत करी पर पुलिस की तरफ से कोई कार्यवाही ना हुई. दिनाक 24 जून को जब लखवीर लाल पटवार खाना गुरापलाह से वापिस घर आ रहा था तो उसे रास्ते में रमन सैनी व उसके एक दोस्त ने घेर लिया और उसकी स्कूटी की चाबी निकाल ली और रमन सैनी कहने लगा की सालो तुम कंचन को मेरे खिलाफ भड़काते थे पर तुम सालो के समझाने के वावजूद भी मैंने कचन से शादी करवा ली अब उस दो टक्के के चमार बिल्ले को भी देखूंगा उसकी भी हवा टिकाने लगानी है. इसके बाद लखवीर जैसे तैसे करके वापिस अपने घर आ गया और उसने यह सारी घटना दरगाह के ही सेवादार शीतल दास स्पुत्र स्व: लक्ष्मण दास जाति चमार निवासी बाथू को अपनी आप बीती सारी घटना बताई जिसके चलते शीतल ने दिनाक 25 जून को करीब 11 बजे सुबह रमन सैनी को फोन किया और कहा रमन तुमने कल लखवीर को क्यों घेरा इतना सुनते ही रमन शीतल दास को भी गालियाँ निकालने लगा और कहने लगा सालेया अब तेरा नाम भी अपनी लिस्ट में शामिल कर लिया और बोला लखवीर उसके बाप और बिल्ले के साथ साथ तेरी भी गेम बजानी पड़ेगी फिर इसके बाद शीतल दास बाथू प्रजापति फ्यूल पेट्रोल पम्प पर अपने किसी काम हेतु गया तो इतने में वहा रमन सैनी अपने साथियों सहित वहा पर आ गया और शीतल दास पर जान लेवा हमला कर दिया और शीतल के ऊपर आग भुजाने वाला सिलेंडर दे मारा जिस से शीतल बाल बाल बच गया उसके बाद रमन सैनी अपनी गाडी से तलवार लेकर आ गया और शीतल को मारने ही वाला था कि मौका पर मौजूद लोगों ने बचा लिया ये सारी घटना पेट्रोल पम्प पर लगे कैमरों में रिकार्ड है रमन सैनी वहाँ से शीतल दास को गालियाँ निकालता हुआ चला गया और जाता जाता कह गया की तुम सब चमारों की गेम ओवर करनी है.


    दिनाक 25 जून को लखवीर ने NDMJ टीम के राज्य महासचिव से सम्पर्क किया व रमण सैनी व उसके साथियों के खिलाफ रास्ते में घेरने जान से मारने की धमकी देने जाति सूचक गालियाँ निकालने व दरगाह के सेवादार शीतल दास पर हमला करने जाति सूचक गालियाँ निकालने व राकेश कुमार उर्फ़ बिल्ला को जान से मारने की धमकी देने जाति सूचक गालियाँ निकालने खिलाफ IPC की धाराओं व अनुसूचित जाति जनजाति अधिनियम एक्ट 2018 के तहत मामला दर्ज करवाया.

  • Posted by: NDMJ - Himachal Pradesh
  • Fact finding date: 25-06-2024
  • Date of Case Upload: 24-07-2024

Images

   

Files

1) FIR Copy 

Physical assault on a teenage Dalit boy

    juGFYUGyufhIODOuaiyfiuhfkihsdfkchkdjoWIDJIO

  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: Not recorded
  • Date of Case Upload: 18-06-2024

test

    Case details is not available
  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: Not recorded
  • Date of Case Upload: 18-06-2024

दलित परिवार का रास्ता बंद कर मारपीट व जाति सूचक गाली गलोच at Poliyan

    यह घटना जिला ऊना की तहसील हरोली के गांव पोलियाँ बीत की है यह गांव जिला मुख्यालय से 26 कि०मी० की दुरी पर है राज्य हिमाचल में जातिय व्यवस्था पर आधारित छुआछूत की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है भारत को आज़ाद हुए 70 वर्ष के करीब हो गए है पर ऐसी घटिया मानसिकता रखने वाले लोग आज भी समाज में मौजूद है. पोलियाँ बीत गांव में बाल्मीकि जाति के 12 घर, राजपूत जाति के 125, ब्राहमण जाति के 40, चमार जाति के 85, सुरैहड़े जाति के 1, ज़ीर जाति के 2 घर हैं. इस गांव में दलित समाज से वीना कुमारी पत्नी श्री प्रदीप कुमार रहती है, जिसकी उम्र करीब 64 वर्ष की है. बीना कुमारी आँगन वाडी स्कुल से सेवानिर्वित है. बीना कुमारी का पति हिमाचल प्रदेश परिवहन की बस चलाता है. बीना कुमारी के दो बच्चे है एक लड़का और लड़की दोनों शादी शुदा है पर बीना की लड़की का तलाक हो चुका है और वह बीना कुमारी के साथ ही काफी लम्बे समय से घर में ही रह रही है.


               दिनाक 3.04.24 शाम को 5.30 बजे बीना कुमारी अपने लड़का और लड़की के साथ अपने खेत में काम कर रहें थे। बीना का बेटा अपने खेत में लगे बबूल के एक पेड की शाखाऐं काट रहा था जिस पर साथ लगते घर से हुस्न सिंह स्पुत्र कृष्ण सिंह जाति राजपूत  ने आकर गाली गलोच करना शुरू कर दिया और बोलने लग गया ये पेड़ किस के कहने पे काट रहा है तू और बीना कुमारी को गालियाँ देने लग गया और कहने लगा की तुम चुहडे लोगो ने क्या कर लिया (क्योंकि कुछ समय पहले ही हुसन लाल ने बीना कुमारी के घर का रास्ता बंद कर दिया था जिस कारण ही रास्ते की खातिर बीना कुमारी ने एक खेत खरीद करा है. हुसन लाल ने बीना कुमारी को गालियाँ निकालते हुए कहा की आपको यहां से निकाल कर रहेगें हुसन लाल की पत्नी शुभलता ओर बेटा राकेश बीना और उसके परिवार पर पत्थर फेंकन लगे हुसन लाल बीना और उसकी बेटी प्रियंका को कहने लगा कुतिये तुझे और तुम्हारी बेटी को हुशियारपुर में बेच देंगे उसी समय प्रिसं अटवाल बीना के जेठ का लड़का आकर हुसन लाल की साईड से गालियां देने लगा और कहने लगा कि मेरे पास पिस्तोल है मैने रखी है मैं तुम लोगों को गोलियां मार दूंगा क्योंकि इसके पास पंजाब के लडके आते हैं जिनके पास यह सामान होता है जिस समय हुस्न लाल ओर उसकी पत्नी ओर माता ने बीना और उसके परिवार को चुहडे बोला तब सब लोग अपने घरों की छतों पर खड़े थे। उसके बाद हुसन लाल ने अपने आप प्रधान को फोन करके बुलाया कि ये लोग Stay वाली जगह पर पेड काट रहे थे प्रिसं अटवाल बोलने लगा प्रधान जी मेरी जेब से पिस्तौल निकालकर दिखाओ हुसन लाल व् उसके परिवार द्वारा किये गये गलत व्यवहार से बीना कुमारी व् उसके परिवार को मानसिक प्रताडना हुई है तथा इनके द्वारा कहे गये जाति वाचक शब्दों ने अन्य लोगों के सामने चुहडे कहा तब बीना के परिवार की इज्जत पर बहुत क्षति पंहुची है। पुलिस द्वारा 3 अप्रैल को ही बड़ी मुश्किल से बीना और उसकी बेटी के कहने पर मामला दर्ज किया पर अभी तक दोषियों के खिलाफ कोई कार्यवाही अम्ल में ना लाइ गई है. और दोषियों की तरफ से रोज़ाना पीड़ित परिवार को भद्दे कमेन्ट किये जा रहे है.  

  • Posted by: NDMJ - Himachal Pradesh
  • Fact finding date: 05-04-2024
  • Date of Case Upload: 15-06-2024

Images

           

a dalit faced public humiliation, assault with sharp weapon leading to grievous injury

    Case details is not available
  • Posted by: Ambedkar Lohia Vichar Manch
  • Fact finding date: 13-01-2024
  • Date of Case Upload: 02-05-2024

previous123456789...263264next
Total Visitors : 7499632
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)
Website is Managed & Supported by Swadhikar