Total records:502

Manhole death in Banaskantha

    3 (Three) Manhole worker’s died in Unza city, Mehsana district in Gujarat


    As per as information on dated 30th March 2014, 10:30 O’ Clock 3(Three) Scheduled caste workers died in Unza city, Mahesana district in Gujarat.


         On dated 30th March 2014, 10:30 O’ Clock, Safai Kamdar Hareshbhai Babubhai Kuvariya, Anilbhai Amaratbhai Kuvariya, and Anilabhai Ratilalbhai Chauhan were working at near Umiyanagar, opposite Lav Kush factory in Manhole. They were called for manhole work by P.C. Shnehal Construction Company. Project Manager Ranchodbhai Javerbhai Kakdiya handling works at this site. When workers started work at same place they died in manhole.


    Vijaybhai Vasantbhai Solanki lodges the FIR in the Unza Police station. Crime was reg. in Unza Police station, Mehsana district wide crime no.I-56/2014 under IPC, 304 and 3(1)6 of SC/ST (PoA) act. Complainant Vijaybhai Vasantbhai Solanki filed complaints against two accused named Proprietor/Owner of P.C. Snehal Construction Company and Project Manager, Ranchodbhai Javerbhai Kakdiya in the Unza Police station on the 30/3/2014.


    Date of incident: 30/3/2014


    Time: 10:30


    Addres of the incident:Near Umiya Nagar, Opposite, Lav Kush Nagar, Unza city, Mehsana district, Gujart


    Three workers died in Manhole named:


    1. Hareshbhai Babubhai Kuvariya, aged 28, Resident of Palanpur, Valmikivas, Kamalpura road, Banaskantha district, Gujarat


    2. Anilbhai Amratbhai Kuvariya, aged 25, Resident of Palanpur, Valmikivas, Kamalpura road, Banaskantha district, Gujarat


    3. Anilbhai Ratilalbhai Chauhan, aged 29, (Employee of P.C.Snehal Construction Company), Resident of Shiroda village, Gadhada Block, Bhavnagar district, Gujarat


    Responsible for serious issue of Human rights violation:



    1. Proprietor/Owner of P.C.Snehal Construction Company

    2. Project Manager, Ranchodbhai Javerbhai Kakdiya , P.C.Snehal Construction Company.

    3. Chief Officer, Unza, Municipality, Mehsana district, Gujarat

  • Posted by: Navsarjan Trust
  • Fact finding date: Not recorded
  • Date of Case Upload: 04-04-2014

Images

                           

Files

1) Manhole death in Unjha-Gujarat 
2) Manhole death in Unjha-Gujarat 
3) Manhole death in Unjha-Gujarat 
4) Manhole death in Unjha-Gujarat 
5) Manhole death in Unjha-Gujarat 
6) Manhole death in Unjha-Gujarat 
7) Manhole death in Unjha-Gujarat 

A Old Dalit was beatten to death by Police

    victim Bisiya Bhueya was a labourer . He was arrigating water in the owne lane on 13 .11.2013 . at 9am arrived Some excise police there . Police had abuesed and beatten to Bisiya Bhueya . So after some time Bisiya Bhueya was dead . four women had see the incident . her name Rubbi kumari A , Rubbikumari B and other two persons etc. Late Bisiya Bhueya,  s daugher had infom to Muffasi Psl  police in gaya by owne mobile . so Some time lale arrived  Muffasil police  to incident palace . police had take to death body and sent for postmortom in Magadh Medical college Gaya . Now a day not arrest to any accussed .

  • Posted by: NDMJ-Bihar
  • Fact finding date: Not recorded
  • Date of Case Upload: 28-03-2014


Files

1) Murder of Bisiya Bhueya 

दलित मजदूर के घर लूट और महिलाओं के साथ सामूहिक बलात्कार

    घटना की पृष्टभूमि व सारांश-  ग्राम अकबर पुर ठाकुर बाहुल्य क्षेत्र है।


    जनपद मुख्यालय से 30 कि0 मी0 की दुरी पश्चिम दिशा में खुटहन थाना है। थाने से 3 कि0 मी0 उत्तर दिशा में गाँव है, जिसमें ठाकुर जाति 70 प्रतिशत संम्पन, राजनैतिक पकड़, सामाजिक दबदबा है, इस गाँव में तीन घर दलित  है। जो अलग अलग दिशा में काफी दुरी पर गाँव के बाहर है। इसी गाँव में बस्ती के बाहर झूरी का परिवार है, झूरी के माता पिता बुढ़े है 2 भाई है। दोनो गाँव में ईट भट्ठा पर मजदुरी कर गुजर बसर करते है। भूमिहिन अनपढ़ परिवार है। गाँव में ठाकुर जाति का चन्दन सिंह गोल बनाकर गैर कानूनी काम करता है। इस प्रकार की घटना का अंजाम दोनो दलितो के घर दे चुका है। कोई कार्यवाही ठाकुरो के भय से नही हो पाई एक दलित घर छोड़ कर भाग गया।


     घटना- दिनांक 14 सितम्बर 2007 के झूरी के रिस्तेदार उसकी बहन संगीता व उसका पति कमलेश आया था। खाना खा कर लेटे थे। परिवार के सभी सदस्य घर के बाहर चार पाई पर लेटे थे। सोये नही थे। इसी बीच 12- 13 की संख्या में  मुह बाँधे लोग आये और कहा कि झूरी दरोगा बुला रहे है। सभी चार पाइयो के 13 की संख्य में हथियार से लैस लोगो ने घेर लिया हथियार दिखा कर कहा कि अवाज निकालोगे तो जान से मार दूगा। और हथियार के बल पर एक घर में लेजाकर सभी को रखा महिलाओ का जेवर उतरवा लिया कुछ लोग दुसरे  घर में लूटपाट कर रहे थे। लूट पाट करने के बाद दो लोगो ने कहा कि महिलाओ को दुसरे घर में ले चलो दुसरे घर में ले जाते समय झूरी की बहन संगीता व भाई की पत्नी शशिकला को दुसरे घर मे ना लेजाकर बाहर ला कर संगीता के साथ चार लोगो ने बलात्कार किया व शशिकला के साथ चन्दन सिंह ने बलात्कार किया, चन्दन सिंह को शशिकला ने पहचान लिया। उसके बाद कहा कि किसी से बताओगी तो पुरे परिवार को जान से मार दुगा।  दोनो महिलाओ


    को उठाकर महिलाओ के घर में छोड़ दिया। और घर के बाहर से कुन्डी लगा दिया। पुरूषो के कमरो में भी बाहर से कुन्डी लगा दिया। धमकी दी कि शोर करोगे या कोई कार्यवाही की तो जान से मार देगें। नगदी राशन, कपड़े, अन्य समान उठा ले गये। थोड़ी देर जाने के बाद झूरी ने कच्चे गारे से बनी ईट की खिड़की तोड़ कर बाहर निकला और बाहर की कुन्डी खोली और शोर मचाया पड़ोस की मुस्लिम बस्ती के लोग व ग्राम प्रधान आदि लोग रात में ही आयें। प्रधान ने कहा कि सुबह हमारे साथ थाने चलना झूरी सुबह प्रधान के साथ थाने पर गया आप बीती बतायी व लिखित सिकायती पत्र दिया। थाने दार ने कहा कि बैठो मै चन्दन सिंह को बुलवाता हूँ चन्दन सिंह के आने के बाद दरोगा ने चन्दन सिंह को डाटा और झूरी से कहा कि तुम घर जाओ मै इसको जेल भेज देता हूँ। झूरी घर आ गया और शाम को सुना कि चन्दन सिंह घर आ गया। पुलिस ने कोई कार्य वाही नही की वह घटना स्थल पर भी नही आयी, झूरी जानकारी के अभाव व मदद न मिलने के कारण आत्महत्या करने को सोच रहा था, एक माह बाद संगठन के साथियो को अपरचित से फोन पर सूचना मिलने पर झूरी के यहाँ गये। उसकी आप बीती सुनने के बाद घटना को मिडिया में लाया गया। और कोर्ट में 156 (3) में कार्यवाही की गई। कोर्ट के आदेश पर दिनांक 20- 12- 2007 को मुकदमा संख्या 914/2007 धारा 376, 504, 506, 395, S/c. S. T एक्ट 3(1) 12 दर्ज किया गया । अभियुक्त को गिरप्तार नही किया गया झूरी पर अभियुक्त पक्ष की तरफ से सुलह का सामाजिक दबाव बनने लगा, झूरी  संगठन के सहयोग से दबंगो के आगे नही झुका।


    सीओ. शाहगंज ने बिवेचना में फाइनल रिर्पोट लगा दिया जिसके खिलाफ झूरी ने कोर्ट में सीओ. से फिर से बिवेचना कराने की माँग की कोर्ट ने सीओ, केराकत को बिवेचना का आदेश दियें सीओ, केराकत ने भी फाइनल रिर्पोट लगादी जिसके खिलाफ झूरी ने कोर्ट में लिखित हलफिया बयान लगा दिया, कोर्ट ने स्तीगासा के रूप में स्वीकार कर लिया। पीड़ितो के बयान के बाद दिनांक 23- 6 2011 को कोर्ट ने चन्दन सिंह को हाजिर होने का आदेश दिया है।   

  • Posted by: Dynamic Action Group
  • Fact finding date: 19-10-2007
  • Date of Case Upload: 28-03-2014

Images

     

Thondamuthur dalits houses demolished

    Thottamuthur was located in coimbatore distirct where the dalits were living from last five generation, Those  dalits was living in government waste land. It around 1.5 arcer. Dalit were doing colli works as a daily worker and agricultural land which was possed by goverment waste land. 


    On 02.01,2014 dalits houses and housed holdarticals were damaged by caste hindu Vevekananthan by using JCB (JCB No: TN22, AX3274). Following that he went to police station and lorged complaint against dalits by saying dalits were damaged his JCP vehical, which was used demolished the dalit houses.  Dalit houses were damaged and false cases were filed against dalits and dalits were threatened to kill. 

  • Posted by: Social Awareness Society for Youths
  • Fact finding date: Not recorded
  • Date of Case Upload: 26-03-2014

Dalit youth Arun kumar attacked case

    Case details is not available
  • Posted by: Social Awareness Society for Youths
  • Fact finding date: Not recorded
  • Date of Case Upload: 26-03-2014

Total Visitors : 776184
© All rights Reserved - Atrocity Tracking and Monitoring System (ATM)